Wednesday, December 7, 2022

फूड प्वॉइजनिंग का शिकार हुईं 15 छात्राएं, देर रात सड़क पर लगाया जाम, स्‍कूल और प्रशासन के खिलाफ जमकर की नारेबाजी

- Advertisement -
- Advertisement -

खनऊ के राजकीय आश्रम पद्धति बालिका विद्यालय की करीब 15 छात्राएं शनिवार को अचानक बीमार हो गईं। उन्हें उल्टी, पेट दर्द और घबराहट की शिकायत के बाद लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रात करीब 10 बजे विद्यालय की अन्य गुस्साई छात्राओं ने सड़क पर उतर आईं। छात्राओं का कहना है कि उन्हें खराब खाना दिया गया, जिसकी वजह से ही कुछ छात्राएं बीमार हुई हैं। नाराज छात्राओं ने रात में बुद्धेश्वर चौराहा जाम कर दिया और जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।

इसे भी पढ़ें : किसान संगठनों ने टाला ट्रैक्टर मार्च, खत्म नहीं किया आंदोलन, कहा – सरकार आए बातचीत की टेबल पर

ये मामला लखनऊ के आलमबाग क्षेत्र का है। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि, घटना के बाद से छात्राएं काफी नाराज हैं और उन्होंने शिकायत की है कि उन्हें बासी और बेकार खाना दिया जा रहा है। नाराज छात्राओं के प्रदर्शन के बारे में जैसे ही पुलिस और स्थानीय जिला प्रशासन के अधिकारियों को जानकारी मिली। वो मौके पर पहुंचे और उन्होंने छात्राओं से बातचीत शुरू कर दी। करीब तीन घंटे तक मान-मनौव्वल के बाद छात्राओं ने धरना खत्म किया। इस दौरान 150 छात्राओं को समर्थन देने के लिए ज्योतिबा राव फुले कॉलेज के छात्र भी आ गए थे।

कैटरर्स को हटाने की मांग
छात्राओं का आरोप है कि पिछले चार दिनों से उन्हें कच्चे चावल और रोटी दी जा रही है। इसकी शिकायत स्कूल प्रबंधन और टीचरों से भी की गई लेकिन सुनवाई नहीं हुई। शनिवार को भी खाने गुणवक्ता ठीक नहीं थी। रात में करीब 9 बजे खाना खाने के बाद करीब 15 छात्राओं की तबियत बिगड़ गई। उन्हें पेट दर्ज, उल्टी और घबराहट की शिकायत होने लगी।

छात्राओं का का कहना है कि उन्हें शनिवार को आलू सेम की सब्जी, चावल और दाल रोटी मिली थी, जिसमे बदबू आ रही थी। छात्राओं ने तुरंत खाना छोड़ दिया और बीमार छात्राओं को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिसके बाद छात्राएं नाराज प्रदर्शन करने पहुंच गई। जिला प्रशासन के अधिकारियों से छात्राओं ने मांग है कि तुरंत स्कूल के कैटरर्स को हटाकर अच्छे खाने की व्यवस्था की जाए।

छात्राओं को किया गया डिस्चा्र्ज
मामले को लेकर स्वास्थ्य अधीक्षक ने बताया है कि एडमिट छात्राओं का आवश्यक इलाज जारी है। ये मामला फूड प्वॉइजनिंग का लग रहा है। कुछ छात्राओं को रात में ही डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें : इस वजह से शव को नहीं छोड़ा जाता है अकेला, गरुड़ पुराण में बताई गई है इन नियमों की वजह

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.kubedliving.com/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.foresixty.com/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1-2022/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.truelovesband.com/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.kubedliving.com/profile/daftar-judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.foresixty.com/profile/daftar-judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.truelovesband.com/profile/judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.kubedliving.com/profile/slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.foresixty.com/profile/situs-slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.truelovesband.com/profile/situs-slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.kubedliving.com/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.foresixty.com/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.truelovesband.com/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile