इन बड़ी बीमारियों से लड़ने के लिए डाइट में शामिल करें मछली, vitamin D का है अच्छा स्रोत

0
56
fish

यदि आप नॉनवेज लवर हैं तो आप अपनी डाइट में मछली को जरूर ऐड करें।शायद आपको पता नहीं होगा कि मछली खाने के कितने फायदे होते हैं। टेस्टी होने के अलावा मछली खाने में आपके स्वास्थ्य को कई अलग-अलग तरीकों से लाभ पहुंचाती है। मछली खाने से शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल कम होता है। आपका हार्ट भी काफी स्वस्थ रहता है। यही नहीं मछली का सेवन करने से शरीर में विटामिन डी की कमी पूरी तरह से दूर हो जाती है। इसको कोरोना काल में अगर आप अपने अंदर के स्ट्रेस को दूर भगाना चाहते हैं तो जरूर मछली का सेवन करें। आपको सुनने में थोड़ा अजीब लग रहा होगा लेकिन यह सच है। बंगाल, असम और भारत के तटीय क्षेत्रों में लोग भोजन के रूप में मछली का सेवन करते हैं। मछली बनाना भी बहुत इजी है क्योंकि मछली का मांस काफी तेजी से पकता है। चावल के साथ खाने में काफी टेस्टी लगती है मछली हेल्थ को अच्छा बनाए रखती है। आज हम आपको बताते हैं मछली खाने के फायदे…

अच्छा फैट

आपको बता दें कि मछली में सैचुरेटेड फैट नहीं होता है इस वजह से या हेल्थ और खासकर हार्ड के लिए काफी लाभदायक होती है। चिकन, मटन जैसे प्रोटीन के अन्य स्रोतों के बजाय यदि आप रोजाना मछली का सेवन करते हैं तो ये आपके हार्ट हेल्थ के लिए बहुत बेहतर होगा। क्योंकि इसमें कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बहुत कम पाई जाती है।

विटामिन डी से परिपूर्ण

मछली को विटामिन डी का एक प्राकृतिक स्रोत कहा जाता है। शरीर को सभी अन्य प्रकार के पोषक तत्व को अवशोषित करने और हेल्थ को सही बनाए रखने में मदद करने के लिए विटामिन डी की आवश्यकता होती है। मछली खाने से शरीर की आवश्यकता पूरी हो जाती है।

स्ट्रेस से लड़ने में करे हेल्प

फिश में ओमेगा 3 फैटी एसिड और डी एच ए से लेकर विटामिन डी तक सभी पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। जब इसका सेवन किया जाता है तो यह सभी पोषक तत्व शरीर में स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं। मानसिक स्वास्थ्य जैसी सभी बीमारियों से लड़ने में आपकी मदद करती है।

डायबिटीज में लाभदायक

यदि आपके घर में किसी शख्स को मधुमेह की बीमारी है तो उसे मछली का सेवन जरूर करना चाहिए। यह शरीर में शुगर की मात्रा को कंट्रोल करने में हेल्प करता है या कई बड़ी बीमारियों से लड़ने में मदद करता है।

इसे भी पढ़े-जानें एक दिन में कितने पुशअप लगाना है फायदेमंद, बॉडी पोस्चर ऐसे होता है सुधार

( इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित है इस पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)