जी तोड़ मेहनत करके पत्नी को पढ़ा- लिखाकर बनाया SDM, अफसर बनने के बाद उसी ने दे दिया धोखा, पति ने खोल दी सारी पोल

ज्योति के पति आलोक मौर्य ने इस मामले में होमगार्ड मुख्यालय में शिकायत दर्ज कराई है उन्होंने आरोप लगाया है कि उनकी पत्नी ने उन्हें धोखा दिया है उनका किसी और के साथ अफेयर चल रहा है।

1089
PCS Jyoti Maurya Case

PCS Jyoti Maurya Case:‌ बरेली में प्रांतीय सिविल सेवा अधिकारी इन दिनों काफी चर्चा में बनी हुई है। उनके पति ने उन पर बहुत ही गंभीर आरोप लगाए हैं। सिविल सेवा अधिकारी ज्योति मौर्या के आलोक मौर्य ने आरोप लगाते हुए 100 पन्नों की एक डायरी भी सौंपी है। इस डायरी में ज्योति मौर्या हर महीने होने वाले कलेक्शन का सारा हिसाब किताब रखती थी। वही ज्योति के पति आलोक मौर्य ने इस मामले में होमगार्ड मुख्यालय में शिकायत दर्ज कराई है उन्होंने आरोप लगाया है कि उनकी पत्नी ने उन्हें धोखा दिया है उनका किसी और के साथ अफेयर चल रहा है।

डायरी के हर पन्ने पर लिखा था कुछ ऐसा

आपको बता दें ज्योति मौर्या के पति आलोक मौर्य ने यह डायरी मीडिया को सौंपी है। डेरी में बताया गया है कि ज्योति आधिकारिक रूप से हर महीने 6लाख रुपए इकट्ठा कर रही थी ज्योति के पति आलोक मौर्य ने इस मामले में होमगार्ड मुख्यालय में शिकायत दर्ज कराई है। प्रयागराज के पंचायत राज मंडल में तैनात आलोक कुमार की डायरी के हर पन्ने के ऊपर और नीचे स्वास्तिक का चिन्ह बना हुआ है। इस पर शुभ और लाभ ही लिखा था। आलोक ने दावा किया है कि यह लिखावट ज्योति की ही है।

एसडीएम पत्नी का चल रहा किसी और के साथ अफेयर

आलोक ने बताया कि 2020 में ज्योति का परिचय गाजियाबाद में तैनात डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट होमगार्ड से हुआ उन दोनों के बीच बातें होने लगी तब मुझे कुछ भी गलत नहीं लगा क्योंकि वह दोनों अधिकारी थे। लेकिन 2022 में ज्योति अपने मोबाइल पर फेसबुक लॉग इन करना भूल गई थी। मैंने देखा तो दोनों के बीच बहुत ही गंदी बातें हो रही थी। जिसे देख कर मुझे काफी गुस्सा आया और मैंने ज्योति से इस बारे में पूछा तो उसने मारपीट करनी शुरू कर दी। उसने मुझे जेल भेजने की धमकी दे डाली। आलोक ने बताया कि एक हफ्ते पहले मुझे फोन किया गया और कहा गया कि स्वेच्छा से तलाक ले लो नहीं तो तुम्हें मार दिया जाएगा। इतना ही नहीं उसने 376 में फंसाने की धमकी तक दे डाली। दरअसल आपको बता दें आलोक मौर्य की शादी 2010 में ज्योति से हुई थी और 2009 में ही आलोक को चयन पंचायत राज विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के पद पर तैनाती मिली। इसके बाद उन्होंने जी तोड़ मेहनत करके अपनी पत्नी ज्योति को पढ़ाया लिखाया और 2015 में उनका चयन भी हो गया। लोक सेवा आयोग में ज्योति का चयन होने से घरवाले काफी खुश थे। 2015 में ज्योति ने जुड़वा बेटियों को जन्म दे दिया। लेकिन 2020 में इन दोनों के रिश्ते में दरार आ गई। आलोक मौर्य ने अपनी एसडीएम पत्नी पर कई सारे गंभीर आरोप भी लगाए हैं।

Read More-लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करना लड़के को पड़ा भारी, दो बहनों ने सरेआम बेल्ट से की पिटाई, देंखे वीडियो