Silent Heart Attack हो सकता है जानलेवा, दिखें ये 5 संकेत तो हो जाएं सावधान

Silent Heart Attack : बहुत ही खतरनाक और जानलेवा है साइलेंट हार्ट अटैक। बता दें इसमें न तो चेस्ट पेन होता है और ना ही सांस से जुड़ी कोई भी समस्या, यानी यह ऐसा हार्ट अटैक है, जिसमें लक्षण न के बराबर ही दिखाई देते हैं।

217

Silent Heart Attack : बहुत ही खतरनाक और जानलेवा है साइलेंट हार्ट अटैक। बता दें इसमें न तो चेस्ट पेन होता है और ना ही सांस से जुड़ी कोई भी समस्या, यानी यह ऐसा हार्ट अटैक है, जिसमें लक्षण न के बराबर ही दिखाई देते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो साइलेंट हार्ट अटैक (Silent Heart Attack) की वजह से वही होता है जो हार्ट अटैक के लिए होता है। इनमें बढ़ती उम्र, मधुमेह, अधिक वजन, हार्ट डिजीज, हाई बीपी, हाई कोलेस्ट्रॉल, फिजिकल एक्टिविटी में कमी, शराब-सिगरेट का सेवन शामिल हैं। साइलेंट हार्ट अटैक आने से पहले शरीर संकेत देता है, इन्हें कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। आइए बताते हैं साइलेंट हार्ट अटैक के लक्षण क्या-क्या हैं…

1. बिना किसी वजह से थकान हो जाना

यदि छोटा-मोटा काम करने के बाद ही थकान फील हो रही है तो सावधान हो जाइए, क्योंकि ये साइलेंट हार्ट अटैक का हल्का संकेत भी हो सकता है। हार्ट की सेहत खराब होने पर शरीर को सही ऊर्जा न मिलने से थकान जल्दी होने लगती है।

2. सांस लेने में परेशानी

जिन लोगों को शारीरिक तौर पर कठिन काम न करने के बावजूद भी अचानक से सांस लेने में परेशानी महसूस हो तो साइलेंट हार्ट अटैक की आशंका बढ़ जाती है। ऐसे में आपको सचेत रहना जरूरी है।

3. शरीर के ऊपरी हिस्से में दिक्क्तें

यदि शरीर के ऊपरी हिस्से जैसे बांह, गर्दन, जबड़े या पीठ में ज्यादा बेचैनी सी फील हो तो सावधान हो जाएँ, क्योंकि ये साइलेंट हार्ट अटैक का लक्षण हो सकता हैं। इस प्रकार की परेशानी थोड़ी-थोड़ी देर में हो सकती हैं।

4. मतली एवं चक्कर फील होना

यदि किसी को लगातार मतली और हल्का सिरदर्द या चक्कर आने जैसा महसूस हो रहा है तो इसका अर्थ दिल सही तरीके काम नहीं कर रहा है। वह ब्लड को सही प्रकार पंप नहीं कर पा रहा है। ऐसी स्थिति में साइलेंट हार्ट अटैक आने की संभावना बढ़ जाती है।

5. अधिक पसीना निकलना

शरीर से अधिक पसीना निकलना भी हार्ट से जुड़ी परेशानी का संकेत हो सकता है। पसीना दिल पर तनाव के प्रति शरीर की प्रतिक्रिया हो सकती है। बिना कारण पसीना आने पर बिना देर किए डॉक्टर से संपर्क जरूर करना चाहिए।

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई गई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह अवश्य लें।