‘अब हमारे रामलला टेंट में नहीं रहेंगे…’, अयोध्या के मंदिर परिसर में क्या बोले पीएम मोदी

आज के युग की मांग है कि हमें अपने अंत:करण को विस्तार देना होगा। मैं अभी गर्भ ग्रह में ऐश्वर्य चेतना का साक्षी बनकर सबके सामने उपस्थित हुआ हूं। अब हमारे रामलला टेंट में नहीं रहेंगे वह इस दिव्य मंदिर में रहेंगे।

124
pm modi

Ayodhya Ram Mandir Inaugration: प्राण प्रतिष्ठा के बाद अयोध्या के मंदिर परिसर में पीएम मोदी ने कहा कि, यही समय है, यही समय है। आज से इस समय तक अगले 1000 साल तक की नींव रखनी है। मंदिर निर्माण से आगे बढ़कर सभी देशवासी भव्य और दिव्य भारत के निर्माण की सौगंध लेते हैं राम के विचार मानस के साथ जनमानस में भी हो, यह राष्ट्र निर्माण की सीढ़ी है। आज के युग की मांग है कि हमें अपने अंत:करण को विस्तार देना होगा। मैं अभी गर्भ ग्रह में ऐश्वर्य चेतना का साक्षी बनकर सबके सामने उपस्थित हुआ हूं। अब हमारे रामलला टेंट में नहीं रहेंगे वह इस दिव्य मंदिर में रहेंगे। 22 जनवरी 2024 का यह सूर्य एक अद्भुत आभा लेकर आया है।

‘आज की तारीख कैलेंडर पर लिखी डेट नहीं यह…’

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि,”आज की तारीख कैलेंडर पर लिखी डेट नहीं यह एक नए कालचक्र का उद्गम है। मैं प्रभु राम से क्षमा भी मांगना चाहता हूं। हमारे त्याग और पुरुषार्थ में भी कुछ तो कमी रह गई होगी जो हम इतनी सदियों तक यह काम कर नहीं पाए। आज वह कमी पूरी हो गई मुझे विश्वास है कि प्रभु मुझे अवश्य माफ करेंगे।” आपको बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के यजमान थे।

Read More-पीतांबर वस्त्र धारण कर रामलला के लिए छत्र लेकर पहुंचे PM Modi, शुरू हुई प्राण प्रतिष्ठा