साधारण महिला नहीं है सीमा हैदर, तीसरे शख्स की मदद से आई भारत, IB को उलझा रहे 10 खुलासे

नेपाल में मौजूद पाकिस्तानी महिलाओं को देते हैं, जिनको नेपाल बॉर्डर पार कराकर भारत में गैर कानूनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए भेजा जाता है.

501
seema haider

Seema Haider Case: पाकिस्तानी सीमा हैदर मामले (Seema Haider Case) की जांच कर रही केन्द्रीय जांच एजेंसियों को अहम जानकारी मिली है. किसी तीसरे शख्स की मदद से पूरी तैयारी के साथ सीमा को भारतीय बॉर्डर में दाखिल करवाया गया था. खुफिया एजेंसी सूत्रों के मुताबिक, सीमा ने बकायदा पूरी तैयारी के साथ अपना ड्रेसअप इस तरीके से किया था कि वह ग्रामीण भारतीय महिला लगे. सीमा को इस तरीके से तैयार करने के लिए पेशेवर लोगों की मदद ली गई थी.

केंद्रीय जांच एजेंसियों को पाकिस्तानी सीमा हैदर मामले (Seema Haider Case) में अहम जानकारियां प्राप्त हुईं हैं. किसी तीसरे व्यक्ति की सहायता से ही सीमा को भारतीय बॉर्डर में दाखिल किया गया. खुफिया एजेंसी सूत्रों के अनुसार सीमा ने बकायदा पूरी तैयारी के साथ अपना ड्रेसअप इस तरीके से किया था कि वह ग्रामीण भारतीय महिला लगे. सीमा को इस तरीके से तैयार करने के लिए बहुत से पेशेवर लोगों की सहायता ली गई थी.

सुरक्षा एजेंसियों की तैनात नजरों से बचाव के लिए उसे अपने बच्चों को भी इसी तरीके से ड्रेसअप करवाया. जांच एजेंसियों के अनुसार ऐसा ही तरीका ह्यूमन ट्रैफिकिंग यानि घरेलू सहायिका या जिस्मफरोशी रैकेट में शामिल महिलाएं भारत नेपाल सीमा पार करने के लिए करती हैं. नेपाल में मौजूद पाकिस्तानी महिलाओं को देते हैं, जिनको नेपाल बॉर्डर पार कराकर भारत में गैर कानूनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए भेजा जाता है.

चल रही जांच

भारतीय खुफिया और जांच एजेंसियों की जांच के दायरे में अब एक ऐसे एजेंट भी आ गए हैं, जो इस तरीके की खास तैयारियों को करवाते हैं. भारत में अवैध तरीके से लोगों को घुसाने में सहायता करते हैं. खुफिया सूत्रों के अनुसार भारत नेपाल सीमा पर 13 मई को सीमा हैदर सचिन के भारत में एंट्री में दावों की तस्दीक फिलहाल केंद्रीय एजेंसियों की जांच में नहीं हो सकी है, क्योंकि दोनों भारत में एंट्री का यही बता रहे हैं.

सीसीटीवी फुटेज

इस पूरे प्रकरण की जांच कर रही केंद्रीय एजेंसियों के अनुसार 13 मई को भारत-नेपाल सीमा सुनौली सेक्टर और सीतामढ़ी सेक्टर में अब तक थर्ड नेशन सिटीजन की मौजूदगी की कोई जानकारी नहीं मिली है भारत-नेपाल सीमा पर इन्हीं दोनों जगहों के सीमा हैदर और सचिन द्वारा भारत में एंट्री करने की बात पक्की की जा रही है, जिसके बाद यहां मौजूद रिकॉर्ड और सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई.

ज्ञात हो कि 13 मई को भारत नेपाल सीमा के सारे बस रूट पर गुजरने वाली बसों के सीसीटीवी फुटेज की जांच जा रही है, जिसका विवरण सीमा और सचिन ने दिया है. थर्ड नेशन सिटिजन यानी भारत नेपाल के अलावा किसी तीसरे देश के नागरिक का भारत नेपाल सीमा पर मौजूद होना और उसे पार करने की कोशिश करना. भारत नेपाल में मैत्री समझौता होने के नाते इन दोनों देशों के अलावा अगर किसी तीसरे देश का नागरिक यहां पर आता है, तो इसकी सूचना तुरंत यहां पर मौजूद एजेंसियों को स्थानीय पुलिस को देनी होती है.

ये 10 सवाल जो किसी साजिश की ओर इशारा कर रहे हैं.

1. चार बच्चों की मां खुद पाकिस्तान के छोटे से शहर का बताती है, लेकिन पब्जी गेम में दिनभर किस तरीके से व्यस्त रहती थी.

2. मिडिल क्लास पांचवी पढ़ी लड़की एक नहीं दो दो पासपोर्ट क्यों रख रही है.

3. अपने चार बच्चों को छोड़कर सचिन से नेपाल किस तरह चली आई.

4. केवल यही नहीं दूसरी बार पाकिस्तान सीमा लौटी, तो अपने 4 बच्चों को एकदम नए पासपोर्ट कैसे बनवा कर लौटी.

5. उसके पास इतने पैसे कहां से आए. सीमा कहती है उसने मकान बेचा था… लेकिन क्या पाकिस्तान में महिलाओं को संपत्ति में इतना अधिकार है?

6. बिना पति को भनक लगे, उसने मकान बेचा कैसे.

7. सीमा दुबई गई और पाकिस्तानी रुपयों को दिरहम में बदलवा लेती है. फिर दुबई में होटल और कैसे इंतजाम इतना सब कर लेती है.

8. घुसपैठ के आरोपों में भारत में पकड़े जाने पर कैसे इतनी शांत नजर आई.

9. ना केवल अपना बल्कि अपने चार बच्चों का भी फर्जी आधार कार्ड कैसे सीमा ने बनवाया.

10. जितने फोन पाकिस्तान में तो अपने इस्तेमाल किए उनमें से एक भी वह भारत लेकर नहीं आई. नेपाल से भी उसने दूसरे लोगों के हॉटस्पॉट से व्हाट्सएप कॉल किए. पाकिस्तान में उसका अपना पर्सनल लैपटॉप वो क्यों छोड़ आई

Read More-Dhirendra Shastri को पसंद करती है Seema Haider, दरबार जाने की है इच्छा