30 साल बाद बन रहा कृष्ण जन्माष्टमी पर दुर्लभ संयोग, ये अचूक उपाय दूर कर देंगे गरीबी

30 साल बाद एक साथ रवि योग और सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहे हैं। इस बार जन्माष्टमी पर रोहिणी नक्षत्र रहेगा और चंद्रमा वृषभ राशि में होंगे। आईए जानते हैं जन्माष्टमी पर कुछ ऐसे काम है जिनको करने से हमेशा के लिए कासन से छुटकारा मिल जाएगा ‌।

251
Krishna Janmashtami 2023

Krishna Janmashtami 2023: कृष्ण का जन्म भाद्रपद मास में कृष्ण पक्ष में अष्टमी तिथि, रोहिणी नक्षत्र के दिन रात्री के 12 बजे हुआ था। भादो का महीना बहुत ही पवित्र माना जाता हैं। आज से भादो का महीना शुरू हो गया है और इसी महीने में कृष्ण का जन्मदिन पड़ने वाला है। इस बार जन्माष्टमी का पर 6 सितंबर को शाम 3:37 पर शुरू होगा और इस पर का समापन 7 सितंबर को शाम 4:14 पर होगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस बाल कृष्ण जन्माष्टमी पर 30 साल बाद बहुत ही दुर्लभ संयोग बना रहा है। 30 साल बाद एक साथ रवि योग और सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहे हैं। इस बार जन्माष्टमी पर रोहिणी नक्षत्र रहेगा और चंद्रमा वृषभ राशि में होंगे। आईए जानते हैं जन्माष्टमी पर कुछ ऐसे काम है जिनको करने से हमेशा के लिए कासन से छुटकारा मिल जाएगा ‌।

कन्हैया जी को लगाए भोग

जन्माष्टमी पर कन्हैया जी को लड्डू और मक्ख मिश्री का भोग लगाएं। इसके अलावा धनिया की पंजीरी या आटे की पंजीरी भी लड्डू गोपाल को खिलाएं ऐसा करने से आज की गरीबी हमेशा के लिए दूर हो जाएगी और आर्थिक संकट से आपको छुटकारा मिलेगा।

कान्हा जी की प्रतिमा का करें अभिषेक

जन्माष्टमी के दिन कान्हा जी की प्रतिमा का अभिषेक करने से भी आपके सभी दुख दूर होंगे। फिर उसे पंचामृत को प्रसाद के रूप में ग्रहण करें इसके साथ ही जन्माष्टमी पर मेवा और मखाने वाली खीर जरूर बनाएं इसमें तुलसी के पत्ते जरूर डालें ऐसा करने से भगवान कृष्ण प्रसन्न होते हैं और आपकी सभी इच्छाएं पूरी करते हैं।

Read More-Astro Tips: भूलकर भी इन चीजों का नहीं करना चाहिए दान, कंगाल होते नहीं लगेगी देर