स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान से फिर गरमाया राजनीतिक माहौल, बोले-‘हिंदू कोई धर्म नहीं सिर्फ धोखा…’

स्वामी प्रसाद मौर्य ने आगे विवादित बयान देते हुए कहा,'हम लोग भले ही पागल होकर हिंदू धर्म के लिए मरे पर ब्राह्मणवादी व्यवस्था के चालक लोग हमें आदिवासी मानते हैं ऐसा ही व्यवहार भारत के पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद के साथ हुआ।

222
Swami Prasad Maurya

Swami Prasad Maurya: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव स्वामी प्रसाद मौर्य ने एक ऐसा बयान दिया है जिस राजनीतिक माहौल में हलचल मच गई है। उन्होंने हिंदू ब्राह्मणवाद को लेकर इतना बड़ा बयान दिया है कि फिर से राजनीतिक माहौल गरमा गया है। उन्होंने कहा कि हिंदू नाम कोई धर्म नहीं है। हिंदू ही नहीं है। हिंदू धर्म केवल धोखा है। उन्होंने एक पर टिप्पणी लिखने के साथ ही वीडियो भी डाला है उसमें कहा कि सही मायने में जो ब्राह्मण धर्म है उसी को हिंदू धर्म कहकर इस देश के दलितों आदिवासियों पिक्चरों को अपने धर्म के मकड़जाल में फंसने की एक साजिश है।

ब्राह्मणवाद को लेकर मौर्य ने दिया बड़ा बयान

स्वामी प्रसाद मौर्य ने आगे विवादित बयान देते हुए कहा,’हम लोग भले ही पागल होकर हिंदू धर्म के लिए मरे पर ब्राह्मणवादी व्यवस्था के चालक लोग हमें आदिवासी मानते हैं ऐसा ही व्यवहार भारत के पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद के साथ हुआ। दलित होने की वजह से उन्हें मंदिर में जाने से रोका गया। इसी तरह अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री पद से हटने पर मुख्यमंत्री आवास और कालिदास मार्ग को गोमूत्र से पवित्र किया गया था।

फिर गरमाई यूपी की सियासत

आगे स्वामी प्रसाद मौर्य ने बयान देते हुए कहा कि उनके साथ ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि वह पिछड़े समाज से आते हैं। इतना ही नहीं स्वामी प्रसाद करने भीमराव अंबेडकर से लेकर ज्योतिबा फुले जैसे महान पुरुषों का भी जिक्र किया है। हालांकि स्वामी प्रसाद मौर्य के इस बयान से सियासत में फिर से भूचाल आना तय है।

Read More-रक्षाबंधन पर मोदी सरकार ने किया बड़ा ऐलान, सभी को 200 रुपए सस्ता मिलेगा एलपीजी सिलेंडर