इस तारीख को पूरा देश हर साल मनाएगा National Space Day, पीएम मोदी ने किए 3 बड़े ऐलान

23 अगस्त को भारत ने पहली बार चांद की सतह पर कदम रखा है। चंद्रयान-3 की सफलतापूर्वक लैंडिंग के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शनिवार के दिन भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो कमांड सेंटर पहुंचें है। इसरो कमांड सेंटर पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन बड़े ऐलान किए हैं।

220
PM Modi

PM Modi: इस समय पूरे देश में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी कि इसरो को प्रधानमंत्री से लेकर पूरा देश शुभकामनाएं दे रहा है और खूब तारीफ कर रहा है। क्योंकि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की तरफ से 14 जुलाई को दोपहर 2:35 पर चंद्रयान 3 लॉन्च किया गया था। जिसके बाद 23 अगस्त को चंद्रयान-3 ने चांद के सतह पर शाम 6:04 पर सफलतापूर्वक लैंड किया है। 23 अगस्त को भारत ने पहली बार चांद की सतह पर कदम रखा है। चंद्रयान-3 की सफलतापूर्वक लैंडिंग के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शनिवार के दिन भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो कमांड सेंटर पहुंचें है। इसरो कमांड सेंटर पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन बड़े ऐलान किए हैं।

पीएम मोदी ने किए बड़े ऐलान

बेंगलुरु पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसरो कमांड में चंद्रयान-3 को सफलतापूर्वक लैंड कराने में मुख्य योगदान देने वाले वैज्ञानिकों को संबोधित किया है। इसके साथ इसरो कमांड सेंटर से पीएम मोदी ने तीन बड़ी घोषणाएं की हैं। चांद के सतह पर पहली बार चंद्रयान-3 का मूल लैंडर उतरा है। उस स्थान को आज से शिव शक्ति के नाम से जाना जाएगा। दूसरा ऐलान करते हुए पीएम मोदी ने कहा है कि चंद्रयान 2 ने साल 2019 में चांद की सतह पर जहां अपने पद चिन्ह छोड़े थे उसे तिरंगा नाम से जाना जाएगा। यह तिरंगा पॉइंट यह सीख देगा की कोई भी असफलता आखिरी नहीं होती है।

23 अगस्त को मनाया जाएगा नेशनल स्पेस डे

तीसरी ऐलान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत ने 23 अगस्त को इतिहास रचा है। ऐसे दिन भारत का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज हुआ है। जिस कारण आज से हर साल पूरे देश में 23 अगस्त को नेशनल स्पेस डे मनाया जाएगा। 23 अगस्त से पूरे देश को बहुत बड़ी प्रेरणा मिलेगी। आपको बता दे कि भारत के चंद्रयान 3 ने 23 अगस्त को चांद के सतह पर लैंड करते हुए पूरे देश का सिर सम्मान से ऊंचा कर दिया है। इससे पहले साल 2019 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो की तरफ से भेजा गया चंद्रयान 2 असफल हो गया था।

Read More-लखनऊ रामेश्वर टूरिस्ट ट्रेन में लगी भीषण आग, 9 लोगों की मौत