भारत रत्न से सम्मानित किए जाएंगे लालकृष्ण आडवाणी, जानकारी देते हुए पीएम मोदी ने जताई खुशी

लालकृष्ण आडवाणी तीन बार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में वह देश के उप प्रधानमंत्री भी रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आडवाणी ने राजनीतिक नैतिकता में मानक स्थापित किए हैं।

104
Lal Krishna Advani

Bharat Ratn To Lal Krishna Advani: भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न से नवाजा जाएगा। इस बात की जानकारी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी है। प्रधानमंत्री मोदी ने ऐलान करते हुए कहा है कि मुझे बहुत खुशी हो रही है कि लालकृष्ण को भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा। लालकृष्ण आडवाणी तीन बार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में वह देश के उप प्रधानमंत्री भी रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आडवाणी ने राजनीतिक नैतिकता में मानक स्थापित किए हैं।

भारत रत्न से सम्मानित किए जाएंगे लालकृष्ण आडवाणी

पीएम मोदी ने जानकारी साझा करते हुए कहा है कि,’मैंने उनसे बात की और उन्हें बधाई दी आडवाणी हमारे इस समय के सबसे सम्मानित राजनेताओं में से एक हैं और भारत के विकास में उनका योगदान अविस्मरणी है। आडवाणी ने राष्ट्रीय एकता और सांस्कृतिक पुनरुत्थान को आगे बढ़ाने की दिशा में अद्वितीय प्रयास किए हैं। उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया जाना मेरे लिए बहुत भावुक क्षण है। मैं इसे हमेशा अपना सौभाग्य मानूंगा कि मुझे उनके साथ बातचीत करने और उनसे सीखने के अनगिनत अवसर मिले।’

पाकिस्तान के कराची में हुआ था आडवाणी का जन्म

आपको बता दे लालकृष्ण आडवाणी का जन्म 1927 में पाकिस्तान के कराची में हुआ था। साल 1942 में ही वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में शामिल हुए और आजादी के संघर्ष में अपना योगदान दिया। 1947 में देश के आजाद होने और भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद वह परिवार के साथ सिंध से दिल्ली आ गए। यहां वह पहले जनसंघ से जुड़े और फिर आपातकाल के बाद भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य बने। 1988 में वह पहली बार भारत के गृहमंत्री बने जून 2002 से मई 2004 तक अटल बिहारी वाजपेई की सरकार के दौरान देश के उप प्रधानमंत्री बने। लाल कृष्ण आडवाणी भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता हैं।

Read More-साउथ सुपरस्टार थलापति विजय ने राजनीति में रखा कदम, इस पार्टी की तरफ से लड़ेंगे चुनाव