घर के इस दिशा में भोजन करने से प्रसन्न होती है मां लक्ष्मी, भर जाते हैं धन के भंडार

कोई भी व्यक्ति वास्तु शास्त्र के नियम का पूरी तरह से पालन करता है तो उसे कभी भी किसी प्रकार की हानि नहीं होती है। व्यक्ति को खाना खाने के कुछ जरूरी नियमों का पालन जरूर करना चाहिए

195
Food Astro Tips:

Food Astro Tips: ज्यादातर हम लोग किसी भी दिशा में बैठकर भोजन करने लगते हैं यह शुभ नहीं माना जाता है भोजन करने की भी एक सुनिश्चित दिशा होती है। गलत दिशा में भोजन करना बहुत ही अशुभ माना जाता है। वास्तु शास्त्र में कई समस्याओं के निवारण के बारे में बताया गया है अगर कोई भी व्यक्ति वास्तु शास्त्र के नियम का पूरी तरह से पालन करता है तो उसे कभी भी किसी प्रकार की हानि नहीं होती है। व्यक्ति को खाना खाने के कुछ जरूरी नियमों का पालन जरूर करना चाहिए अगर वह ऐसा नहीं करता है तो उसे कंगाली का सामना करना पड़ सकता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार विस्तार में जानते हैं खाना खाने के सही नियम क्या होते हैं किस दिशा में भोजन करना उचित माना जाता है।

नहीं धोना चाहिए थाली में हाथ

शास्त्रों के अनुसार व्यक्ति को खाना खाने के बाद अपनी थाली में हाथ नहीं धोना चाहिए अगर आप ऐसा करते हैं तो कंगाली आ सकती है।

ना करें खाने की बर्बादी

वास्तु शास्त्र के अनुसार कभी भी अन्य का अपमान नहीं करना चाहिए खाने की बर्बादी बिल्कुल भी नहीं करनी चाहिए जितना खाना खा सके उतना ही प्लेट में रखें।

सही दिशा में करें भोजन

वास्तु शास्त्र के अनुसार भोजन को सही दिशा में ही करना चाहिए। व्यक्ति को खाना खाते वक्त अपना मुंह घर की पूर्व और उत्तर दिशा की ओर रखना चाहिए।

परिवार के साथ करें भोजन

शास्त्रों के अनुसार भजन हमेशा अपने परिवार के साथ ही करना चाहिए। इससे घर वालों के बीच एकता और प्रेम बना रहता है। भोजन करने से पहले भगवान का धन्यवाद जरूर करना चाहिए। खाना खाने के दौरान कभी भी बीच में शौच ना जाए वास्तु शास्त्र के अनुसार इसे अन्न का अपमान कहते हैं।

(Disclaimer: यहां पर प्राप्त जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। News India इसकी पुष्टि नहीं करता है।)

Read More-वास्तु के अनुसार अनार का पौधा घर में लगाना शुभ है या अशुभ