वास्तु के अनुसार अनार का पौधा घर में लगाना शुभ है या अशुभ

अनार (Pomegranate) बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक फल होता है। यह दिल की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। केवल यही नहीं, शास्त्रों और वेद में कई रोगों के उपचार के लिए फल-फूल और पेड़ों की छाल आदि का इस्तेमाल किया जाता है।

316

Pomegranate Tree at Home : अनार (Pomegranate) बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक फल होता है। यह दिल की बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। केवल यही नहीं, शास्त्रों और वेद में कई रोगों के उपचार के लिए फल-फूल और पेड़ों की छाल आदि का इस्तेमाल किया जाता है। वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में लगाए गए फल न सिर्फ लोगों को आकर्षित करते हैं, बल्कि सकारात्मक ऊर्जा का भी संचार करते हैं। प्राचीन काल चली आ रही पेड़-पौधों के पूजन की परंपरा है। मगर कुछ पेड़-पौधे ऐसे भी हैं, जिन्हें आपको घर में लगाना अशुभ माना जा सकता है। इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि अनार के पौधे को घर की किस दिशा में लगाना शुभ माना जाता है।

घर में अवश्य लगाएं अनार का पौधा

हिन्दू धर्म शास्त्रों में पेड़-पौधों को देवी-देवता का प्रतीक माना जाता है। वहीं घर में अनार का पौधा अवश्य लगाना चाहिए। माना जाता है अनार का पौधा घर में लगाने से किस्मत के सभी दरवाजे खुल जाते हैं और ग्रह-दोष से भी छुटकारा मिल सकता है। इसके साथ ही सुख-समृद्धि की प्राप्ति भी हो जाती है।

इस दिशा में लगाएं अनार का पौधा

माना जाता है कि अनार के पौधे को घर के बाहर अग्नेय दिशा में लगाना शुभ होता है। इस दिशा में लगाने से धन लाभ हो सकता है और वंश वृद्धि भी होती है। इस पौधे को अग्नेय दिशा में पौधा लगाने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

घर के सामने लगाएं

अनार का पौधा घर के सामने लगाना सबसे उत्तम माना गया है, मगर इस बात का ध्यान अवश्य रखें कि घर के बीचों बीच आंगन में अनार का पौधा कभी न लगाएं। ऐसा करने से धन की हानि हो सकती है और व्यक्ति को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी करती हैं वास

हिंदू धर्म के अनुसार अनार के पौधे में भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी वास करते हैं। माना जाता है कि इसे घर में लगाने से पैसों की तंगी से छुटकारा मिल सकता है और धन लाभ भी होता है।

उत्तर-पश्चिम दिशा में न लगाएं

घर की उत्तर-पश्चिम दिशा में अनार का पौधा कभी नहीं लगाना चाहिए। हिन्दू धर्म के अनुसार इससे व्यक्ति को कई प्रकार की परेशानियां झेलनी पड़ सकती है और काम में बाधाएं आ सकती है। आपकी हेल्थ में भी समस्याएं आ सकती है।