मकर संक्रांति के दिन इन चीजों का करें दान,मिलेगी पापों से मुक्ति

हर वर्ष मलमास का दिन इसी दिन से समाप्त हो जाता है। मकर संक्रांति के बाद से ही विवाह आदि शुभ कार्य होने शुरू हो जाते हैं। मकर संक्रांति के दिन इन चीजों का दान करना बहुत ही शुभ माना जाता है।

136
Makar Sankranti Upay

Makar Sankranti Upay: सूर्य देव के एक राशि से दूसरी राशि में जाने से मकर संक्रांति का त्यौहार मनाया जाता है। मकर संक्रांति का त्योहार वैसे तो ज्यादातर 14 जनवरी को मनाया जाता है लेकिन इस बार मकर संक्रांति का पर 15 जनवरी को मनाया जाएगा। मकर संक्रांति के दिन दान पूर्ण करना बहुत ही शुभ माना जाता है। कुछ लोग मकर संक्रांति पर उपवास भी करते हैं। मकर संक्रांति के दिन भगवान सूर्य की पूजा की जाती है लोग नदियां और तालाबों पर जाकर स्नान करते हैं। हर वर्ष मलमास का दिन इसी दिन से समाप्त हो जाता है। मकर संक्रांति के बाद से ही विवाह आदि शुभ कार्य होने शुरू हो जाते हैं। मकर संक्रांति के दिन इन चीजों का दान करना बहुत ही शुभ माना जाता है।

मकर संक्रांति के दिन करें इन चीजों का दान

मकर संक्रांति के दिन सुबह उठकर तिल के उबटन से स्नान करना चाहिए। उसके बाद आंगन को लिप कर आठ पंखुड़ियां के कमल की अल्पना बनाई जाती है। उसमें सूर्य देव का आह्वान किया जाता है। उसके बाद सूर्य देव को मंत्र उच्चारण करने के बाद तांबे के पात्र से सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए। मकर संक्रांति के दिन ऊनी वस्त्र, नए बर्तन, कंबल रेवड़ी, तिल, गुड़, सब्जी ,फल ,कच्चे दाल -चावल आदि का दान करना चाहिए। इस दिन खिचड़ी जरूर बननी चाहिए। मकर संक्रांति के दिन दान करना बहुत ही शुभ माना जाता है।

उत्तरायण में होते हैं सूर्य देव

मकर संक्रांति के दिन सूर्य देव उत्तरायण में हो जाते हैं। मकर संक्रांति सूर्य के उत्तरायण होने और कर्क संक्रांति सूर्य के दक्षिणायन होने को कहते हैं। सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करते हैं तब मकर संक्रांति का त्यौहार मनाया जाता है। मकर संक्रांति के दिन दान -पूण्य करना बहुत ही शुभ माना जाता है ऐसा करने से पापों का नाश हो जाता है।

Read More-Astro: करियर पर सबसे ज्यादा फोकस करते हैं इस माह में जन्मे लोग, जाने इनका स्वभाव