जन्माष्टमी पर तुरंत कर ले मोरपंख से जुड़े ये उपाय, पैसों से कभी नहीं खाली होगी तिजोरी

इसी दिन भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था घरों में ढोल और नगरों के साथ भगवान श्री कृष्ण का जन्म मनाया जाता है। मोर पंख से जुड़े कुछ ऐसे उपाय हैं जिनको जन्माष्टमी के दिन करने से सभी कष्टों से छुटकारा मिलता है।

184
Krishna Janmashtami 2023

Janmashtami 2023: भगवान श्री कृष्ण का जन्म भाद्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को हुआ था। हिंदू धर्म में जन्माष्टमी का त्यौहार बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। जन्माष्टमी इस बार 2 दिन की बताई जा रही है। इस बार जन्माष्टमी इस 7 सितंबर को मनाई जाएगी। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भगवान विष्णु की पूजा अर्चना करने से आपके सभी दुख दूर होंगे। इसी दिन भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था घरों में ढोल और नगरों के साथ भगवान श्री कृष्ण का जन्म मनाया जाता है। मोर पंख से जुड़े कुछ ऐसे उपाय हैं जिनको जन्माष्टमी के दिन करने से सभी कष्टों से छुटकारा मिलता है।

वास्तु दोष

जिस घर में वास्तु दोष होता है उसमें जन्माष्टमी के दिन मोर पंख से जुड़े इस उपाय को कर लेना चाहिए। जन्माष्टमी 2023 को मोर पंख घर में लाएं और कान्हा जी की पूरे विधि विधान के साथ पूजन करें इस मोर पंख को घर में पूर्व दिशा में लगा दें ऐसा करने से वास्तु दोष दूर हो जाता है।

आर्थिक संकट

जिन घरों में आर्थिक संकट से लोग जूझ रहे हैं उन्हें इस दिन भगवान श्री कृष्ण की विधि विधान से पूजा करनी चाहिए इसके साथ ही 21 दिनों तक मोर पंख की पूजा करनी चाहिए। 21 वे दिन अन मोर पंखों को तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से आपको आर्थिक संकट से छुटकारा मिल जाएगा और मां लक्ष्मी प्रसन्न हो जाएंगी।

राहु -केतु दोष

जिन लोगों पर राहु केतु का दोष मंडरा रहा है उन्हें जन्माष्टमी के दिन अपने बेडरूम की पश्चिम दिशा में मोर पंख लगा लेना चाहिए ऐसा करने से दोनों क्रूर ग्रहों के दुष्प्रभाव से मुक्ति मिल जाती है। नौकरी पैसा में सफलता नहीं मिलने वालों को सफलता मिलने लगती है हर काम सफल हो जाता है।

Read More-Astro: करियर पर सबसे ज्यादा फोकस करते हैं इस माह में जन्मे लोग, जाने इनका स्वभाव