UWW ने भारतीय कुश्ती संघ की सदस्यता को अचानक किया सस्पेंड, मच गया हड़कंप

भारतीय पहलवान 16 सितंबर से शुरू होने वाली शब्द कुश्ती चैंपियनशिप में तटस्थ खिलाड़ी के रूप में भाग लेंगे। भूपेंद्र सिंह बाजवा की अगुवाई वाले तदर्थ पैनल को 45 दिनों के अंदर चुनाव कराने के समय सीमा दी गई थी।

224
UWW Suspend WFI

UWW Suspend WFI: वर्ल्ड रेसलिंग की सर्वोच्च संस्था ने अचानक एक ऐसा फैसला लिया जिससे हड़कंप मच गया। UWW भारतीय कुश्ती महासंघ को सस्पेंड कर दिया है जिसकी वजह से अब भारतीय पहलवान आगामी दिनों में तिरंगे के नीचे नहीं खेल पाएंगे। दरअसल वर्ल्ड रेसिंग की सर्वोच्च संस्था ने समय पर चुनाव नहीं करने के कारण UWW को सस्पेंड कर दिया है। भारतीय पहलवान 16 सितंबर से शुरू होने वाली शब्द कुश्ती चैंपियनशिप में तटस्थ खिलाड़ी के रूप में भाग लेंगे। भूपेंद्र सिंह बाजवा की अगुवाई वाले तदर्थ पैनल को 45 दिनों के अंदर चुनाव कराने के समय सीमा दी गई थी।

अप्रैल के महीने में दी गई थी चेतावनी

जब चुनाव नहीं हो पाया तो वर्ल्ड रेसलिंग की सर्वोच्च संस्था ने अप्रैल के महीने मे चेतावनी दी थी कि अगर चुनाव कराने के लिए समय सीमा का पालन नहीं किया जाता है तो भारतीय महासंघ को निलंबित कर दिया जाएगा। भारतीय ओलंपिक संघ ने कुश्ती का कामकाज देखने के लिए 27 अप्रैल को तदर्थ पैनल की नियुक्ति की थी और 28 अप्रैल को सही समय पर चुनाव कराने की चेतावनी दी गई थी।

पहलवान नहीं खेल पाएंगे तिरंगे के नीचे

सूत्रों के मुताबिक कहा गया है कि, ‘UWW ने बुधवार की रात को तदर्थ पैनल को बताया कि कार्यकारिणी के चुनाव नहीं करने के कारण WFI को निलंबित कर दिया गया है।’ 16 सितंबर से शुरू होने वाली वर्ल्ड कुश्ती चैंपियनशिप में तटस्थ खिलाड़ी के रूप में भाग लेंगे। वर्ल्ड चैंपियन पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफाइंग प्रतियोगिता भी है।

Read More-चांद पर लहराया तिरंगा, भारत ने रचा इतिहास तो खुशी से झूम बॉलीवुड सितारे