आंदोलन के दौरान हुए लाठी चार्ज पर डिप्टी सीएम ने मांगी माफी, कहा- ‘मैं बहुत दुखी हूं’

183
Devendra Fadnavis

Maratha Reservation Protest : जालना में मराठा आरक्षण आंदोलन के दौरान हुए लाठी चार्ज को लेकर अब महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम ने लोगों से माफी मांगी है और उन्होंने इस बात को लेकर दुख भी जताया है। डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस और डिप्टी सीएम अजित पवार ने मुंबई में सीएम एकनाथ शिंदे के साथ बैठक भी की है। डिप्टी सीएम देवेंद्र फड़वेज ने इस घटना को लेकर दुख जागते हुए कहा कि जालना की घटना दुखद है।

जालना की घटना पर जताया दुख

देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंसिंग करते हुए कहा कि, पुलिस द्वारा लाठी चार्ज किया जाना बहुत ही दुखद है बल प्रयोग का कोई समर्थन नहीं कर सकता मैं पहले जब 5 वर्ष तक मुख्यमंत्री था तब हजारों आंदोलन हुए लेकिन कभी बल प्रयोग नहीं किया गया। जालना की घटना दुखद है। लाठी चार्ज के लिए मैं माफी मांगता हूं मुख्यमंत्री ने उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं घटना को लेकर राजनीति करना गलत है। कुछ लोगों ने कहा कि मंत्रालय से आदेश दिया गया गलत नैरेटिव बनाया गया। लाठी चार्ज के आदेश एसपी और डीएसपी ही देते हैं किसी और की आवश्यकता नहीं होती। ये नैराटिव बनाया जा रहा है कि सरकार ने यह आदेश दिया है राजनीति की जा रही है। यह ध्यान देना चाहिए कि आरक्षण का कानून हमने 2018 में तैयार किया था और सुप्रीम कोर्ट ने इसे अपहोल्ड किया था देश में तमिलनाडु के बाद यह दूसरा फैसला था।”

दो दिनों से अस्वस्थ थे डिप्टी सीएम

डिप्टी सीएम अजित पवार ने भी इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मैं दो दिनों से अस्वस्थ था। इसीलिए घर से बाहर नहीं निकला लेकिन मीडिया में अलग-अलग तरह की खबरें चलाई गई है सरकार मराठा आरक्षण को लेकर सकारात्मक है।”आपको बता दे महाराष्ट्र के जालना जिले में मनोज जारागें पाटिल ने मराठा आरक्षण की मांग को लेकर मंगलवार से अनशन शुरू किया था शुक्रवार को अस्पताल ले जाने की कोशिश की जा रही थी जिस दौरान प्रदर्शन हिंसक हो गया और पथराव शुरू हो गए भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने लाठी चार्ज किया।

Read More-मंगलवार को दिल्ली का दौरा करेंगे CM योगी, PM मोदी से मुलाकात कर इस अहम मुद्दे पर करेंगे चर्चा!