आज गर्भगृह में विराजेंगे रामलला,क्रेन से लाई गई मूर्ति, इस समय होगी स्थापना

भगवान राम की मूर्ति मंदिर परिसर में क्रेन के द्वारा पहुंच चुकी है और आज ही भगवान श्री राम अपने गर्भ ग्रह में विराजमान हो जाएंगे। इसके लिए शुभ मुहूर्त का समय फाइनल हो गया है।

132
Ram Mandir

Ram Mandir Pran Pratishtha: अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाली राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर काफी जोरों से तैयारी चल रही है। प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले हो रहे अनुष्ठान की शुरुआत मंगलवार से हो चुकी है। आज गुरुवार 18 जनवरी को भगवान राम अपने गर्भ ग्रह में विराजमान हो जाएंगे। भगवान राम की मूर्ति मंदिर परिसर में क्रेन के द्वारा पहुंच चुकी है और आज ही भगवान श्री राम अपने गर्भ ग्रह में विराजमान हो जाएंगे। इसके लिए शुभ मुहूर्त का समय फाइनल हो गया है।

शुभ मुहूर्त हुआ फाइनल

रामलला के विग्रह को गर्भ ग्रह में स्थापित करने का शुभ मुहूर्त भी फाइनल हो गया है। रामलला की मूर्ति आज दोपहर 1:20 से 1:28 के बीच स्थापित हो जाएगी। बुधवार 17 जनवरी रात रामलला की मूर्ति राम मंदिर परिसर में पहुंच चुकी है। मूर्ति को क्रेन की मदद से परिसर में लाया गया है। मूर्ति को गर्भ ग्रह में लाने से पहले विशेष पूजा अर्चना की गई है गर्भ ग्रह में रामलला का सिंहासन भी बनाया गया है। सिंहासन मारकाना पत्थर से बनाया गया है जिसकी ऊंचाई 3.4 फीट है। बुधवार को सरयू नदी के तट पर कलश पूजन भी किया गया है।

मुख्य अजमान रहेंगे पीएम मोदी

22 जनवरी को होने वाली प्राण प्रतिष्ठा की शुरुआत दोपहर 12:20 पर होने वाली है जो दोपहर 1:00 बजे तक चलेगी। वही प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में मुख्य यजमान पीएम मोदी होंगे। इस बात की जानकारी राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में मुख्य अर्चक पंडित श्री लक्ष्मीकांत दीक्षित ने दी है। पंडित लक्ष्मीकांत दीक्षित ने बुधवार को कहा कि पीएम मोदी ही यजमान होने वाले हैं। पहले अंदाजा लगाया जा रहा था की राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा प्राण प्रतिष्ठा से जुड़े अनुष्ठान में यजमान हो सकते हैं। वही आपको बता दे प्राण प्रतिष्ठा समारोह के आखिरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाषण देने वाले हैं।

Read More-रामलला की भक्ति में डूबी मुलायम सिंह यादव की बहू, भजन गाते हुए वायरल हुआ वीडियो