नवरात्रि से पहले लग रहा सूर्य ग्रहण, गलती से भी ना करें ये काम

भारतीय समय के अनुसार यह 8 अप्रैल को रात 9:13 से शुरू होकर देर रात 2: 23 तक चलेगा। अगर ग्रहण के पर्व काल की बात करें तो लगभग 5 घंटे 10 मिनट का होगा। माना जाता है कि सूर्य ग्रहण का सूतक काल ग्रहण लगने से 12 घंटा पहले शुरू हो जाता है।

169
Surya Grahan

Surya Grahan: चैत्र नवरात्रि की शुरुआत 9 अप्रैल 2024 से होने जा रही है। वही चैत्र नवरात्रि के 1 दिन पहले ही सूर्य ग्रहण का साया लगेगा। ऐसी स्थिति में सूर्य ग्रहण का साया संपूर्ण दुनिया पर अपना असर दिखने वाला है। हालांकि सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा। हिंदू धर्म शास्त्रों के मुताबिक जहां पर ग्रहण दिखाई ना दे वहां पर इसका कोई भी नियम पालन नहीं होना चाहिए। सूर्य ग्रहण 8 अप्रैल 2024 को लगेगा। भारतीय समय के अनुसार यह 8 अप्रैल को रात 9:13 से शुरू होकर देर रात 2: 23 तक चलेगा। अगर ग्रहण के पर्व काल की बात करें तो लगभग 5 घंटे 10 मिनट का होगा। माना जाता है कि सूर्य ग्रहण का सूतक काल ग्रहण लगने से 12 घंटा पहले शुरू हो जाता है।

गलती से भी ना करें यह काम

यह सूर्य ग्रहण भले ही भारत में दिखाई ना दे रहा हो लेकिन विश्व के अन्य देशों में यह दिखाई देगा और हम भी देश-विदेश से किसी न किसी रूप से जुड़े हुए हैं।सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ ऐसे काम है जो गलती से भी नहीं करने चाहिए। सूर्य ग्रहण के दौरान घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए अगर आपके घर में कोई गर्भवती महिला है तो उसका ध्यान रखना चाहिए।

-सूर्य ग्रहण के दौरान काटना, छीलना नहीं चाहिए इतना ही नहीं सिलना भी नहीं चाहिए। ग्रहण लगने से पूर्ण तरल पदार्थ में और ऐसे भोज्य पदार्थों में जिन्हें आपको फिर से खाना हो उसमें तुलसी या दूब घास को रख देना चाहिए।

-सूर्य ग्रहण को अपनी आंखों से नहीं देखना चाहिए नहीं तो आपकी आंखों की रोशनी जा सकती है सूर्य ग्रहण के समय सोना नहीं चाहिए सूर्य ग्रहण के बाद नहा जरूर लेना चाहिए।

-सूर्य ग्रहण के दौरान मित्रों का जाप करना चाहिए इसके लिए आप ओम घृणि सूर्याय नमः मंत्र का जाप कर सकते हैं। गायत्री मंत्र का भी जाप करना चाहिए।