ऑफिस में वास्तु से जुड़ी इन टिप्स का रखें ख्याल, कॅरियर को मिलेगी नई ऊंचाई

29

वास्तु दोष आपके काम को ऑफिस में भी प्रभावित कर सकता है। कड़ी मेहनत के बाद आपको मिलने वाली सफलता पर वास्तु दोष नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। वास्तु शास्त्र (Vaastu Shaastra) के अनुसार ऑफिस आपका अपना हो या फिर किसी ऑफिस में नौकरी करते हैं तो स्थान का विशेष ध्यान रखें। किसी भी तरह का दोष आपको आर्थिक तंगी की तरफ ले जा सकता है। ये दोष आपका झगड़ा आपके ऑफिस के साथियों से करवा सकते हैं। काफी हद तक वास्तु पर आपका कॅरियर और आर्थिक स्थिति निर्भर करती है। यही वजह है कि, आपका ये जानना बेहद जरुरी है कि, आपके ऑफिस में आपका कैबिन और दूसरी वस्तुए वास्तु के अनुरूप हैं या भी नहीं।

  • ऑफिस का मुख्य द्वार अगर उत्तर (North) या फिर पूर्व दिशा (East direction) की तरफ है तो ये काफी शुभ होता है।
  • ऑफिस में अकोउन्टेन्ट/कैशियर को हमेशा उत्तर दिशा (North direction) में बैठाने का प्रयास करना चाहिए। उत्तर दिशा भगवान कुबेर की दिशा है।
  • ऑफिस में जब भी बैठें तो इस बात का ध्यान रखें कि, आपके कोई खिड़की हो। अगर आपके पीछे दीवार है तो ये शुभ है।
  • ऑफिस में पश्चिम दिशा (West direction) की तरफ मुख करके छोटे अधिकारियों को और बड़े अधिकारियों को दक्षिण दिशा (South direction) की तरफ मुख करके बैठना चाहिए। किसी भी कर्मचारी का पीठ ऑफिस के मुख्य द्वार की ओर नहीं होनी चाहिए। ऑफिस में पर्दे, दीवारें और टेबल सभी हल्के रंग के होने चाहिए।
  • ग्लोब, बहते हुए पानी या फिर महापुरुषों की तस्वीरें ऑफिस में लगाना शुभ होता है। इससे ऑफिस के कर्मचारियों की काम करने की क्षमता बढ़ती है।
  • आसमानी नीला, ग्रे और ब्लैक कलर ऑफिस के मुख्य द्वार के सामने होना शुभ नहीं माना जाता है।
  • अपना कंप्यूटर और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को ऑफिस में अग्नि देव की दिशा आग्नेय कोण (Igneous angle) में ही रखें।
  • अपने ऑफिस का आप वेटिंग या मीटिंग रूम को हमेशा वायव्य कोण (Aerial angle) में ही बनवाएं।