गलती से भी घर में इन पेड़-पौधे को न लगाएं, भुगतना पड़ सकता है बुरा अंजाम

0
167

वास्तु शास्त्र। पेड़ हमें प्राणवायु देते हैं इसलिए हिन्दू धर्म में इन्हे पूज्यनीय माना गया है। वास्तु शास्त्र के अनुसार पेड़ हमारे जीवन में को प्रभावित करते हैं क्योंकि इनमे सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा होती है। वास्तु के अनुसार घर में अंदर, आंगन या बगीचे में कुछ पौधों को अगर लगाया जाए तो परिवार के सदस्यों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। वहीं कुछ पौधे ऐसे भी होते हैं, जिन्हे घर में लगाना शुभ नहीं माना जाता है। घर के अंदर पेड़ पौधे लगाने से मां लक्ष्मी नाराज होती हैं। उन पौधों की वजह से आपके जीवन में परेशानी बढ़ती है और तरक्की में रुकावट पैदा होती है। परिवार के सदस्यों के बीच तनाव बढ़ता है। वास्तु के नियमों को अगर ध्यान में रखकर उपाय किया जाये तो घर की नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है। वहीं इन पौधों को घर में कभी भी न लगाएं।

बबूल का पेड़
वास्तु के अनुसार घर में किसी भी तरह का कांटे वाला पेड़ न लगाएं। यह शुभ नहीं माना गया है। इसलिए बबूल का पेड़ घर में न लगाएं। इसमें कई आयुर्वेदिक गुण जरूर होते हैं लेकिन घर में इसे लगाना शुभ नहीं होता है। बबूल के पेड़ से परिवार में तनाव बढ़ता है और परिवार के सदस्यों की तरक्की भी प्रभावित होती है।

बेर का पेड़
बेर का पेड़ घर के अंदर या घर के आस पास भी मत लगाएं और अगर लगा हुआ तो उसे हटा दें। वास्तु शास्त्र के अनुसार, इस पेड़ में बुरी शक्तियां वास करती हैं, जिसका प्रभाव आस पास रहने वाले पर पड़ता है। बेरी का पेड़ शुभ काम में भी रुकावटें पैदा करता है।

खजूर का पेड़
वास्तु के अनुसार घर में खजूर का पेड़ लगाना शुभ नहीं है। खजूर का पेड़ घर खूबसूरती जरूर बढ़ाता है लेकिन आर्थिक रूप से लोगों को कमजोर भी करता है।

बोनसाई पौधे
बोनसाई का पेड़ आज के दौर में काफी लोग लगाते हैं लेकिन इस पेड़ को भी वास्तु में शुभ नहीं माना जाता है। इससे सफलता में रुकावट पैदा होती है।

इसे भी पढ़ें :- Vastu Tips : घर की इन चीजों पर दे विशेष ध्यान, छोटी सी गलती बना सकती है कंगाल