Tuesday, February 7, 2023

योगी आदित्यनाथ के सबसे बड़े दुश्मन के करीबी रहे बृजेश पाठक, जानें कैसे बने UP के डिप्टी CM

यूपी की सियासत में एक दौर ऐसा भी था, जब बृजेश पाठक योगी आदित्यनाथ के कट्टर प्रतिद्वंद्वी कहे जाने वाले हरिशंकर तिवारी के बेटे विनय तिवारी के बेहद करीबी थे। लखनऊ यूनिवर्सिटी के 1989 में वो उपाध्यक्ष बने थे और फिर 1990 में छात्र संघ अध्यक्ष बन गए। कहा जाता है कि, यूनिवर्सिटी के चुनाव में बृजेश पाठक की पूरी मदद विनय तिवारी ने ही की थी।

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की कमान योगी आदित्यनाथ ने लगातार दूसरी बार संभाल ली है। योगी कैबिनेट से 22 मंत्रियों और डिप्टी सीएम रहे दिनेश शर्मा को हटाया गया है। उनकी जगह बृजेश पाठक को लाया गया है। योगी कैबिनेट 2.0 में अगर किसी मंत्री की सबसे ज्यादा चर्चा हो है तो वो हैं ब्रजेश पाठक बृजेश पाठक। बीजेपी में छह साल पहले शामिल हुए बृजेश पाठक ने तमाम वरिष्ठ भाजपाई नेताओं को पीछे छोड़कर उप मुख्यमंत्री पद पा लिया है, जबकि उनका बैकग्राउंड बीजेपी या संघ से भी नहीं जुड़ा है। बृजेश पाठक को जमीनी नेता भी कहा जाता है, जो हवा का रुख भांप लेते हैं। पहले कांग्रेस और फिर बसपा में रहे बृजेश पाठक ने 2016 में बीजेपी का दामन थाम लिया था।

इसे भी पढ़ें : भारतीय वायुसेना की जांच में हुआ बड़ा खुलासा, कैसे-क्यों पाकिस्तान में जा गिरी थी ब्रह्मोस मिसाइल

यूपी की सियासत में एक दौर ऐसा भी था, जब बृजेश पाठक योगी आदित्यनाथ के कट्टर प्रतिद्वंद्वी कहे जाने वाले हरिशंकर तिवारी के बेटे विनय तिवारी के बेहद करीबी थे। लखनऊ यूनिवर्सिटी के 1989 में वो उपाध्यक्ष बने थे और फिर 1990 में छात्र संघ अध्यक्ष बन गए। कहा जाता है कि, यूनिवर्सिटी के चुनाव में बृजेश पाठक की पूरी मदद विनय तिवारी ने ही की थी। छात्र जीवन में और फिर राजनीति के शुरुआत में दोनों बेहद करीबी दोस्त थे।

एक इंटरव्यू के दौरान विनय तिवारी ने कहा है कि, बृजेश पाठक शायद ऐसे पहले नेता हैं, जो बीजेपी के बैकग्राउंड से नहीं आते हैं और उसके बाद भी इतना बड़ा पद हासिल किया है। उन्होंने कहा कि, वो भले इतने लोकप्रिय नहीं हैं लेकिन संगठन में अच्छे हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि, वो एक अच्छे मौसम वैज्ञानिक रहे हैं।

पूर्वांचल में ब्राह्मण राजनीति का चेहरा थे हरिशंकर तिवारी
बसपा से बृजेश पाठक और विनय तिवारी एक साथ जुड़े थे। 2022 के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले वो विनय तिवारी सपा में शामिल हो गए थे। एक समय ऐसा भी था जब गोरखपुर और उसके आसपास के जिलों में ब्राह्मण राजनीति का चेहरा हरिशंकर तिवारी थे लेकिन उनका परिवार वैसी साख बनाने में कामयाब नहीं हो पाया।

पहली योगी कैबिनेट में बृजेश पाठक को एक ब्राह्मण चेहरे के तौर पर ही शामिल किया गया था और उन्हें कानून मंत्री बनाया गया। हरदोई के मल्लावां के रहने वाले बृजेश पाठक के पिता एक होम्योपैथिक डॉक्टर थे। उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर 2002 में पहला विधानसभा चुनाव लड़ा था लेकिन सिर्फ 150 वोटों से वो हार गए थे।

मायावती के करीबी नेताओं में शामिल थे बृजेश पाठक
बृजेश पाठक ने हवा का रुख पहचाना और उन्होंने बसपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव उन्नाव से लड़ा और जीत दर्ज कर वो संसद पहुंच गए। मायावती के करीबी नेताओं में बृजेश पाठक का नाम भी था। इसके बाद वो 2009 में राज्यसभा सांसद बने लेकिन 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

इसे भी पढ़ें : भीषण सड़क हादसा : खाई में गिरी बस, 7 की मौत, 45 घायल, सगाई में जा रहा था परिवार

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

https://todopazar.com/slot-bonus/

http://newsnation51.com/rtp-slot/

https://bfamm.org/wp-includes/slot-bonus-100/

https://piege-photographique.com/wp-includes/rtp-slot-live/

https:https://grupoeditorialquimerica.com/wp-includes/rtp-slot-live/

https://lecapmag.com/slot-bonus-100/

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.kubedliving.com/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.foresixty.com/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1-2022/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.truelovesband.com/profile/situs-judi-slot-terbaik-dan-terpercaya-no-1/profile

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.kubedliving.com/profile/daftar-judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.foresixty.com/profile/daftar-judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.truelovesband.com/profile/judi-slot-online-jackpot-terbesar/profile

https://www.kubedliving.com/profile/slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.foresixty.com/profile/situs-slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.truelovesband.com/profile/situs-slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/slot-gacor-gampang-menang/profile

https://www.kubedliving.com/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.foresixty.com/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.sciencefilm.ch/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.truelovesband.com/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile

https://www.aprendainglesozinho.com.br/profile/info-slot-gacor-hari-ini/profile