विकास दुबे की तरह मारने की बात कहकर क्राइम जर्नलिस्ट पर टूट पड़े पुलिसवाले, जानें क्या है माजरा

352

लखनऊ। पुलिस कहीं की भी हो वह विवादों में हमेशा रहती है। इसका कारण भी, पुलिस पर जितनी जिम्मेदारियां उससे कही ज्यादा राजनीतिक दबाव व प्रभाव भी है। उत्तर प्रदेश, मुंबई के बाद अब उत्तराखंड पुलिस भी विवादों में आ गई है।
अब उत्तराखंड पुलिस विवादों में है। यहां की देहरादून पुलिस पर एक पत्रकार की पिटाई करने का आरोप लगा है। इस पूरे मामले में कुछ वीडियो भी वायरल हुए हैं। कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए पुलिस पर आरोप लगाया है कि देहरादून पुलिस ने क्राइम स्टोरी के सम्पादक राजेश शर्मा की पिटाई की है। उन्होंने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है कि ये क्राइम स्टोरी के सम्पादक राजेश शर्मा हैं, भाजपा राज में लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ का हाल ये है तो आम आदमी की हैसियत ही क्या होगी।

इसे भी पढ़ें: राम मंदिर निर्माण में इस्तेमाल की जाएगी इतने हजार पवित्र स्थानों की मिटटी और जल

कांग्रेस नेता ने जो वीडियो ट्वीट किया है उसमें देखा जा रहा है कि राजेश शर्मा कुछ पुलिस वालों से घिरे हैं और वह लड़खड़ाते हुए चल रहे हैं। इस दौरान वह कह रहे हैं कि सीएम ने कह दिया मारो, विकास दुबे की तरह कहकर टूट पड़े पुलिस वाले। वह आरोप लगा रहे हैं कि एसओ ने मुझपर पिस्टल तान कर बोला मार दो इसे। वह कहते हैं कि मैं एसओ का नाम नहीं जानता, लेकिन उसे पहचानता हूं।

इसके साथ ही इस घटना से जुड़ा एक और वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में देखा जा रहा है कि रात के समय एक पुलिसवाला राजेश शर्मा के घर के बाहर खड़ा है और दरवाजे पर आवाज दे रहा है। कुछ देर बाद राजेश शर्मा घर से बाहर आते हैं। थोड़ी देर तक बातचीत करने के बाद वही पुलिसवाले राजेश शर्मा को जबरदस्ती धक्का देते हुए अपने साथ ले जाते हैं।

वीडियो में कुछ और लोग भी देखे जा रहे हैं जिनके बारे में कयास लगाया जा रहा है कि वह सब भी पुलिसवाले हैं। जो सादे वर्दी में वहां पहले से मौजूद थे। ये सभी राजेश शर्मा को जबरदस्ती पुलिस की गाड़ी में बैठाकर अपने साथ ले जाते हैं। यह वीडियो शुक्रवार का बताया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: सुशांत सिंह सुसाइड केस से जुड़े हैं महाराष्ट्र सरकार के युवा मंत्री के तार!