UP : रिपोर्ट लिखाने गई मां के साथ थाने में हुआ दुर्व्यवहार, घर आकर कर ली खुदकुशी

0
295
UP

यूपी के बांदा से बड़ा ही शर्मनाक मामला सामने आया है जहां पुलिस की करतूतों ने लोगों को हैरान कर दिया। बेटे के अपहरण होने के बाद थाने में रिपोर्ट लिखवाने आई मां को पहले तो पुलिस ने सुबह से शाम तक थाने में बैठा कर मानसिक दबाव बनाया इसके बाद रिपोर्ट दर्ज करने की बजाय उल्टा पीड़िता के भाई को लॉकअप के अंदर डाल दिया ऐसा कहां जा रहा है पुलिस वालों ने ऐसा इसलिए किया की शायद उनको अपहरण करने वाले पक्ष ने ऐसा करने के लिए कहा हो। थाने में हुई बेज्जती से शर्मिंदा महिला ने घर लौट कर रेलिंग में लटक कर खुदकुशी कर ली। यही नहीं महिला ने इसका फेसबुक लाइक भी किया। महिला की दो बेटियों में से एक रिया रैकवार फैशन मॉडल है जो कि देश के कई फैशन कांटेक्ट में खास पहचान बना चुकी है।

मामला यह है कि शहर के चिल्ला रोड बायपास निवासी सुधा चंद्रवंशी रैकवार नाम की महिला के बेटे दीपक का बीते शुक्रवार कुछ लोग अपहरण कर ले गए थे। परिजनों को जिन पर अपहरण करने का शक था उनके खिलाफ थाने में रिपोर्ट लिखवाने महिला अपने भाई के साथ गई थी।

भाई को किया लॉकअप में बंद
शनिवार को सुबह से शाम तक महिला को थाने में इंतजार करने के लिए बैठा रखा था। बेटे की तलाश करने की बजाय पुलिस में उल्टा पीड़िता पर ही मानसिक दबाव बनाया इतना ही नहीं महिला के भाई को भी पुलिस ने लॉकअप में बंद कर दिया। महिला का आरोप है कि ऐसा आरोपी पक्ष के कहने पर किया गया है।

थाने में पुलिस द्वारा किए गए अपमान से परेशान महिला ने घर आकर शाम करीब 5:00 बजे फेसबुक लाइक कर सुसाइड कर लिया। उधर महिला की दोनों बेटियां का रो रो कर बुरा हाल है। महिला के परिजन ने पुलिस पर आरोपी के साथ मिलकर काम करने का गंभीर आरोप लगाया है। अस्पताल में परिवार और पुलिस के बीच कई बार बहस भी हुई।

बताया जा रहा है कि शुरुआत में पुलिस ने मामले को बहुत ही हल्के में लिया बांदा के सीओ सिटी राकेश कुमार सिंह ने बताया की मृत महिला का नाम सुधार रैकवार था इनका पैसों के लेनदेन का कुछ विवाद था जिसकी वजह से इन्हें कोतवाली लाया गया था बाद में इनके द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली गई इनका बेटा दीपक भी शुक्रवार से लापता है जिसकी एफ आई आर दर्ज कर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

इसे भी पढ़े-कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचाता हैं इमली का सेवन, मोटापा भी करें कम