खुलासा: जियो के सर्वर रूम में लूट करने वाले बदमाशों के बैंक खातों में विदेशों से भेजे गए 10 करोड़ रुपए

79

लखनऊ। यूपी पुलिस ने एक ऐसे गिरोह को धर दबोचा है, जो जिओ मोबाइल कंपनी के सर्वर रूम में लूट करते थे। इस गैंग में कुल 10 सदस्य हैं। दिल्ली में एक सदस्य कोरियर कंपनी चलता है, जबकि एक सदस्य मोबाइल कंपनी में अधिकारी के पद पर है। ये गैंग जिओ के सर्वर रूम में लूट करता था, जिसके बाद लूटा गया सामान विदेशों में बेचा करता था। खबर के मुताबिक अब तक ये गैंग 50 करोड़ से ज्यादा का सामान विदेशों में बेच चुका है। इस गैंग ने आगरा और इटावा में भी जिओ सर्वर से करीब 2 करोड़ 15 लाख लूट की थी। पुलिस ने वो माल इनके पास से बरामद कर लिया है। इन लूटेरों का तार अमेरिका सहित कई देशों में फैले हुए हैं।

इसे भी पढ़ें: साल के पहले ही दिन पड़ी महंगाई की मार, रसोई गैस सिलिंडर के दामों में हुआ भारी इजाफा

पिछले दिनों इन लूटेरों ने सर्वर रूम के गार्ड को बंधक बनाकर आरएसपी कार्ड, लेन कार्ड सहित कई काफी सामान लूट लिया था। इसकी वजह करीब 24 घंटे तक इटावा और उसके आस पास के जिलों में जिओ का नेटवर्क ठप हो गया था। जिले में हुई दो करोड़ की लूट के बाद प्रदेश में हड़कंप मच गया था। पुलिस की क्राइम ब्रांच और सर्विलांस की टीम ने सबसे पहले बंधक बनाए गए गार्ड से पूछताछ शुरू की। इसके बाद पुलिस को कुछ सुराग हाथ लगे और जानकारी सामने आई कि, ये एक बड़ा गैंग हैं, जिसके टेलिकॉम कंपनी के अधिकारी तक शामिल हैं।

इस गैंग को दिल्ली में कोरियर कंपनी की फ्रेंचाइजी चलाने वाला राजेश कुमार चला रहा था। चोरी का माल ये खुद अपनी कंपनी से दुबई, कैलिफोर्निया, मास्को, सहित कई देशों में भेजा करता था। पुलिस टेलिकॉम कंपनी के अधिकारी चंदन पांडे सहित 8 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने जब इन लोगों के खाते चेक किये तो सामने आया कि, इन बैंक अकाउंट से करीब दस करोड़ रुपए विदेशों से आए थे। पुलिस का कहना है कि, इस गैंग में कुछ बैंक कर्मी में शामिल थे।

इसे भी पढ़ें: यूपी में किसान सम्मान निधि में बड़ा घोटाला, ढाई लाख से अधिक अपात्रों को दिया गया लाभ