दलित युवक की हत्या के बाद मऊ में हुआ बवाल, उग्र भीड़ ने फूंका पुलिस वाहन 

109

लखनऊ। यूपी के मऊ में अनुसूचित जाति के युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। युवक की हत्या के बाद गुस्साए भीड़ ने दूसरी जाति की बस्ती पर हमला कर दिया, जिसमे एक 75 वर्षीय कैलाश सिंह घायल हो गए। उन्हें आजमगढ़ इलाज के लिए भेजा गया है। युवक की हत्या के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस के वाहन में भी आग लगा दी। युवक की हत्या के मुख्य आरोपी का नाम राहुल बताया जा रहा है, जिस पर पचास हज़ार का इनाम रखा गया है।

इसे भी पढ़ें: कार से बस टकराने पर मंत्री के बेटे ने रोडवेज ड्राइवर को पीटा, बचाव करने आए लोगों को भी मारा

मृतक युवक का नाम अरविन्द (20) था, जो अपने साथियों के टहलने गया हुआ था। इस दौरान ही कुछ लोगों ने युवक को भैंसही नदी पुल पर करीब साढ़े आठ बजे भैंसही घेर लिया और उसे गोली मार दी। अरविन्द की हत्या की सूचना जैसे ही ग्रामीण को मिली वो बड़ी संख्या में मौके पर पहुंचे और सड़क पर शव रखकर जाम लगा दिया।

अरविन्द की हत्या के बाद उसका परिवार काफी गुस्से में था। जो उग्र भीड़ के साथ पश्चिमपुरा पहुंचा और उसने लोगों पर हमला करना शुरू कर दिया और जमकर तोड़फोड़ की। घटना की जानकारी जैसे ही पुलिस को मिली, वो मौके पर पहुंच गई लेकिन गुस्साई भीड़ ने पुलिस को ही घेर लिया और पीआरवी वाहन को आग के हवाले कर दिया। इसके बाद गांव में बढ़ते बवाल की जानकारी पुलिस के आला अफसरों की दी।

घटनास्थल पर भारी संख्या में पहुंची फोर्स की हिम्मत नहीं हो रहे थी कि, वो गुस्साई ग्रामीणों की भीड़ को खदेड़ सके। देर रात रात तक पुलिस अधिकारियों ने उन्हें समझाया और अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया, जिसके बाद ही ग्रामीण माने।

युवक की हत्या को लेकर एडीजी जोन बृजभूषण मीडिया से बात करते हुए कहा कि, हत्या पुरानी रंजिश की वजह से हुई। मौके पर एसपी पहुंच चुके हैं और जल्द ही अपराधी पुलिस की गिरफ्त में होंगे। तनाव को देखते हुए गांव में भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

इसे भी पढ़ें: कृषि कानूनों पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, टिकैत बोले— कानून वापसी तक घर वापसी नहीं