इस महीने किराएदारों से किराया मांगा तो हो सकती है जेल

163
lockdown

नोएडा। कोरोना वायरस से देश भर में हुए लॉकडाउन के बाद दिहाड़ी मजदूरों, फैक्ट्रियों में काम करने वाले छोटे कर्मचारियों के सामने रोजी रोटी के समस्या खड़ी हो गयी है। रोज कमाने खाने वालों के सामने अब दो टाइम खाने की भी दिक्कत होने लगी है। कई लोग मकान का किराया देने में असमर्थ हैं। ऐसे में मकान मालिक उन्हें घर से निकाल रहे हैं। लोग शहर छोड़कर अपने-अपने घरों की ओर लौटने को मजबूर हैं। भारी संख्या में हो रहे पलायन को देखते हुए गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के डीएम ने सभी मकान मालिकों को आदेश जारी किया है की वह इस महीने का किराया किरायेदारों से न मांगें। अगर किसी ने इस आदेश के उल्लंघन किया तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इसे भी पढ़ें:-राहत: अब मिनटों में हो जायेगा कोरोना वायरस का टेस्ट

बताते चलें की देशबंदी के बाद सभी कल कारखाने बंद हो चुके हैं। दिहाड़ी मजदूरी में भी दिक्कत आ गई है। दूसरे शहरों में कमाने आये लोगों के सामने खाने पीने तक की समस्या खड़ी हो गयी है,ऐसे में वह मकान का किराया देने में भी असमर्थ हैं। लोगों की इन्हीं समस्याओं को ध्यान में रखते हुए नोएडा के जिलाधिकारी ने यह आदेश जारी किया है कि अगले महीने तक कोई मकान मालिक किसी किरायेदार से किराया नहीं मांगेगा।

उल्लंघन किया तो होगी जेल

आदेश में कहा गया है कि अगर किसी ने इस आदेश का उल्लंघन किया तो उसे एक साल की जेल भी हो सकती है और आगर किसी तरह की जान माल की क्षति हुई तो जेल की अवधि दो साल भी की जा सकती है। अगर कोई भवन स्वामी इसका उल्लंघन करता है तो प्रभावित व्यक्ति इसकी शिकायत  इंटीग्रेटेड कंट्रोलरूम के नंबर- 0120-2544700 पर कर सकता है।

इसे भी पढ़ें:-बिना किसी जांच के ऐसे समझें कोरोना वायरस के लक्षण