पीएम ने किया महान योद्धा सुहेलदेव की प्रतिमा का शिलान्यास, कहा- गुलामी की मानसिकता से लिखा गया है देश का इतिहास

44
pm nrendra modi

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भारत के महान योद्धा राजा सुहेल देव की 4.20 मीटर प्रतिमा का शिलान्यास किया। यह शिलान्यास उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये किया। इस दौरान उनके साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ भी मौजूद रहे। पीएम ने बहराइच की चित्तौरा झील के विकास कार्यों का भी शिलान्यास किया।

आज बसंत पंचमी के दिन वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती के महान योद्धा सुहलदेव की प्रतिमा के निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। इस दौरन उन्होंने कहा महापुरुषों को राजनीति के नजरिये से देखना गलत होगा।

 

बता दें कि बहराइच में सुहेलदेव की घोड़े पर सवार प्रतिमा की स्थापना होने के साथ, कैफेटेरिया, अतिथि गृह और पार्क के साथ ही बच्चों के खेलने की अन्य सुविधायें भी मौजूद होंगी। महाराजा सुहेलदेव के बारे में कहा जाता है कि 11वीं शताब्‍दी में महमूद गज़नवी के सेनापति सैयद सालार गाजी को मार गिराया था। महाराजा सुहेलदेव की पहचान मुस्लिम आक्रमणकारी को हराने की है।

बसंत पंचमी की दी बधाई

शिलान्यास के बाद अपने संबोधन में पीएम ने कहा पराक्रमी सुहेलदेव कि जन्मभूमि और ऋषि मुनियों कि तपोस्थली बहराइच की पुण्यभूमि को मैं नमन करता हूँ और आप सभी मो बसंत पंचमी की ढेरों शुभकामनाएं देता हूं। प्रधानमंत्री ने कहा यह मेरा सौभाग्य है की मुझे बहराइच में देश के महान योद्धा सुहेलदेव की प्रतिमा के शिलन्यास का मौका मिला।

वहीं ये आधुनिक और भव्य स्मारक, ऐतिहासिक चित्तौरा झील का विकास, बहराइच पर महाराजा सुहेलदेव के आशीर्वाद को बढ़ाएगा और आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करेगा।’ पीएम का इतिहास वह नहीं है ,जो देश को गुलाम बनाने वाले और गुलामी की की मानसिकता के साथ लिखा गया है, बल्कि भारत का इतिहास देश की लोक कथाओं में रचा बसा, जिससे हमें हमारी आने वाली पीढ़ी को अवगत कराना है।

इसे भी पढ़ें:-राममंदिर के शिलान्यास में पहले आया ओवैसी का यह चौंकाने वाला बयान