पंचायत चुनाव: अयोध्या, काशी और मथुरा में बीजेपी की हुई करारी हार, सपा हुई मजबूत

520

लखनऊ। पश्चिम बंगाल के बाद उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के जो नतीजे सामने आ रहे हैं। उसे देख भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के माथे पर बल पड़ने लगे हैं। विधानसभा चुनाव से पहले सत्ता में रहते हुए जो परिणाम सामने आ रहे हैं, उसे देख बीजेपी जहां परेशान है। वहीं विपक्ष काफी खुश है। काशी, मथुरा अयोध्या सहित पूरे प्रदेश में बीजेपी को बड़ा नुकसान होता हुआ दिखाई दे रहा है। इन तीनों ही जिलों से सीएम को काफी लगाव रहा है और चार वर्ष में सरकार इन जिलों पर मेहरबान भी रही है। विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी को मिली हार उसके लिए खतरे की घंटी बजा रही है।

इसे भी पढ़ें:- पंचायत चुनाव: अखिलेश-शिवपाल की जोड़ी ने बीजेपी को दी मात, 24 में से 18 सीटों पर आगे

अयोध्या में बीजेपी को करारी हार
अयोध्या में जिला पंचायत सदस्य की 40 सीटें हैं, जिसमे से बीजेपी के खाते में सिर्फ 6 सीटें ही गईं है जबकि 24 सीटों पर समाजवादी पार्टी ने कब्ज़ा किया है। वहीं 12 सीटों पर निर्दलीयों ने जीत दर्ज की है। बीजेपी की इस बड़ी हार के पीछे बागियों का हाथ बताया जा रही है। पार्टी के 13 नेता ऐसे थे जिन्हे टिकट नहीं मिला। इसके बाद उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा।

काशी में सपा जीती
बीजेपी के लिए मुश्किलें तो काशी में भी बढ़ चुकी हैं। पीएम नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र होने के बाद भी वाराणसी में बीजेपी के खाते में 40 में से सिर्फ 8 सीटें ही गईं हैं। वहीं मुख्य विपक्षी सपा ने 14 सीटें जीतीं हैं। जबकि बसपा ने 5 सीटों पर विजय प्राप्त की है। इसके आलावा अपना दल(एस) ने 3, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी और आम आदमी पार्टी को एक-एक सीट मिली है। जबकि तीन सीटों पर निर्दलीयों ने परचम फहराया है।

मथुरा में बसपा हुई मजबूत
मथुरा में बसपा मजबूती से सामने आई है। पार्टी के 12 उम्मीदवार विजय हुए हैं। जबकि RLD ने 9 सीटों पर और बीजेपी ने 8 सीटों पर जीत दर्ज की है। सपा जरूर यहां काफी पीछे रह गई है और सिर्फ एक सीट पर जीत पाई है। जबकि तीन सीटें निर्दलीयों के खातों में गईं हैं। वहीं कांग्रेस को शून्य पर आ गई है।

इसे भी पढ़ें:- सीएम योगी को डायल 112 पर मिली जान से मारने की धमकी, कहा- चार दिन में जो कर सकते हो कर लो