Thursday, January 20, 2022

दावा : सपा में 22 नवंबर को शामिल होने वाले थे डेढ़ दर्जन मंत्री, राजभर बोले – अखिलेश को तो CM बनाकर ही छोडूंगा

- Advertisement -
- Advertisement -

सुल्तानपुर। यूपी विधानसभा चुनाव में करीब तीन माह का समय बचा है। ऐसे में सूबे में सियासी हलचल तेज हो चुकी है। पक्ष-विपक्ष के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। वहीं सभी राजनीतिक दलों के नेता जनता को साधने की कोशिश में लगातार रैलिया कर रहे हैं। इस बीच बीजेपी सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाथ संप्रदाय पर निशाना साधा है। राजभर ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपने समाज की सुरक्षा के लिए नाथ संप्रदाय बनाया था, जिसका इतिहास ब्राह्मण विरोधी रहा है। यही वजह है कि, सीएम योगी ब्राह्मणों पर अत्याचार करते हैं।

इसे भी पढ़ें : Omicron की दहशत के बीच दक्षिण अफ्रीकी देशों से लौटे 10 विदेशी लापता

सपा के संपर्क में हैं डेढ दर्जन मंत्री
ओमप्रकाश राजभर ने दावा किया है कि, बीजेपी के डेढ़ दर्जन मंत्री 22 नवंबर को समाजवादी पार्टी गठबंधन में शामिल होने वाले थे लेकिन इस आयोजन को आचार संहिता तक टाल दिया गया है।

अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाकर छोडूंगा
सुल्तानपुर पहुंचे राजभर ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि, मुझे अखिलेश यादव अगर एक भी सीट नहीं देंगे तो भी मैं उन्हें सीएम बनाकर ही छोडूंगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को सत्ता में जिस दरवाजे से लाए थे, उस ही दरवाजे से बाहर का रास्ता भी दिखाएंगे। राजभर के साथ पूर्वांचल की जनता चलती है तो सत्ता भी उसी ही तरफ चलती है। आज महंगाई से जनता जूझ रही है। प्रदेश की जनता 2022 में अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाएगी।

सीटों को लेकर नहीं, जातिगत जनगणना की मांग को लेकर किया गठबंधन
राजभर ने इससे पहले जालौन में कहा था कि समाजवादी पार्टी से हमारा गठबंधन सीटों को लेकर नहीं है। हम जातिगत जनगणना को लेकर एक साथ आए हैं। सपा से हमारा गठबंधन महंगाई, भ्रष्टाचार और रोजगार के मुद्दों पर हुआ है। मुझे किसी भी पद की लालसा नहीं है। अगर पद की लालसा होती तो योगी सरकार में मंत्री पद पर होने के बाद भी एनडीए से बाहर न होते और न ही मंत्रिमंडल से इस्तीफा देते।

इसे भी पढ़ें : Digital Bank बना हकीकत, देश में पहली बार ATM से कैश निकासी से ज्यादा हुई मोबाइल पेमेंट : PM मोदी

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -