Saturday, December 4, 2021

अखिलेश यादव के साथ ओम प्रकाश राजभर ने किया गठबंधन, पूर्वांचल में बढ़ सकती है बीजेपी की मुश्किलें

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की सियासत में सभी दल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में लगे हुए हैं। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर यूपी की सियासत में ऐसे नेता हैं, जो बीजेपी की बुराई भी करते हैं लेकिन उससे गठबंधन करना भी चाहते हैं। जबकि वो AIMIM असदुद्दीन ओवैसी मिलकर प्रदेश में भागीदारी संकल्प मोर्चा चुके थे और राज्य में घूमकर रैली भी कर रहे थे लेकिन अब राजभर ने समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ गठबंधन कर लिया है। इसकी पुष्टि उन्होंने खुद सार्वजनिक पर की है।

इसे भी पढ़ें : PM मोदी ने किया कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन, कहा – भारत के संविधान के लिए प्रेरणा हैं भगवान ‘बुद्ध’

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से ओम प्रकाश राजभर ने मुलाकात की है। इसकी जानकारी उन्होंने ट्वीट कर दी है और ऐलान किया है कि सपा के साथ सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने गठबंधन कर लिया है। राजभर ने अखिलेश यादव से मुलाकात का एक वीडियो भी शेयर किया है। ओम प्रकाश राजभर ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘अबकी बार, भाजपा साफ. समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर आए साथ। दलितों, पिछड़ों अल्पसंख्यकों के साथ सभी वर्गों को धोखा देने वाली भाजपा सरकार के दिन हैं बचे चार। पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के सुप्रीमो अखिलेश यादव से शिष्टाचार मुलाकात की।

ओम प्रकाश राजभर और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव की मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर दोनों नेताओं की मुलाकात की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा गया है कि ‘वंचितों, शोषितों, पिछड़ों, दलितों, महिलाओं, किसानों, नौजवानों, हर कमजोर वर्ग की लड़ाई समाजवादी पार्टी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी मिलकर लड़ेंगे. सपा और सुभासपा आए साथ, यूपी में भाजपा साफ!’

 

गौरतलब है कि पिछले दिनों ओम प्रकाश राजभर ने प्रेस कॉफ्रेंस कर संकेत दिए थे कि वो बीजेपी के साथ गठबंधन कर सकते हैं। 27 अक्टूबर को गठबंधन की घोषणा होने की बात उन्होंने की थी। वहीं अब राजभर ने कहा है कि उनकी बीजेपी के साथ बातचीत भी चल रही थी, लेकिन अब उन्होंने अखिलेश यादव के साथ जाने का फैसला कर लिया है।

इसे भी पढ़ें : Aryan Khan को नहीं मिली जमानत, Bombay high court में अब लगाई जाएगी गुहार

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -