Friday, October 22, 2021

BJP कार्यकर्ताओं की हत्या करने वाले अपराधी नहीं, राकेश टिकैत बोले – ये तो क्रिया की प्रतिक्रिया है

- Advertisement -
- Advertisement -

खीमपुर खीरी हिंसा मामले में बीजेपी कार्यकर्ताओं की मौत (मॉब लिंचिंग) को किसान नेता राकेश टिकैत गलत नहीं मानते हैं। उनक कहना है कि हिंसा के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या गलत नहीं है। उनका कहना है कि यह क्रिया की प्रतिक्रिया है। टिकैत का कहना है कि इन मौतों के पीछे कोई साजिश नहीं थी और इसलिए वो इसे गलत भी नहीं मानते हैं। उनका कहना है कि मेरे हिसाब से बीजेपी कार्यकर्ताओं को मारने वाले अपराधी नहीं हैं। किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों पर कार चढ़ाए जाने की प्रतिक्रिया थी लखीमपुर खीरी में बीजेपी कार्यकर्ताओं की कथित हत्या।

इसे भी पढ़ें : विरोधियों पर बरसीं मायावती, कहा – हवा हवाई हैं बीजेपी, सपा, कांग्रेस के वादे, चुनाव आयोग से करूंगी शिकायत

राकेश टिकैत का कहना है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं की मॉब लिंचिंग में हुई हत्या एक प्रतिक्रिया थी। उन्होंने कहा है कि कारों के काफिले ने लखीमपुर खीरी में चार किसानों को कुचल दिया। इसके जवाब में दो कार्यकर्ता बीजेपी के मारे गए। उनका कहना है कि जो कुछ भी हुआ वो क्रिया की प्रतिक्रिया थी। इन हत्याओं में शामिल लोगों को मैं अपराधी नहीं मनाता हूं।

वहीं दूसरी तरफ सयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव का कहना है कि हिंसा में मारे गए सभी लोगों की मौतों पर उन्हें दुख है। हिंसा में मरने वाला भले ही बीजेपी कार्यकर्ता हो या किसान हो। हिंसा की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उन्होंने सभी को न्याय मिलने की उम्मीद जताई। किसान नेताओं की ओर से लगातार मांग की जा रही है कि केंद्रीय गृह मंत्री अजय मिश्रा को पद से बर्खास्त किया जाए। वहीं उनकी दूसरी मांग थी कि उनके बेटे आशीष को गिरफ्तार किया जाए।

फिलहाल आशीष को शनिवार रात गिरफ्तार कर लिया गया है। लखीमपुर खीरी घटना को लेकर किसान नेताओं का आरोप है कि साजिश पहले ही रची जा चुकी थी। ऐसा सिर्फ आंदोलन कर रहे किसानों को आतंकित करने के लिए किया गया है। किसान नेता दर्शन पाल ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि सरकार के इस रवैये को देखते हुए 26 अक्टूबर को किसान मोर्चा ने लखनऊ में महापंचायत का आयोजन किया है।

इसे भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी हिंसा : 14 दिन की न्यायिक हिरासत में आशीष मिश्रा को भेजा गया जेल, फरार आरोपियों की तलाश जारी

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -