spot_img
Wednesday, September 22, 2021

केंद्र पर बरसीं मायावती, कहा- ऑक्सीजन की कमी से मौतें न होने का दावा करना दुर्भाग्यपूर्ण

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ। राज्यसभा में केंद्र सरकार की ओर से मंगलवार को बताया गया है कि कोरोना महामारी (Corona epidemic) की दूसरी लहर के दौरान किसी की भी मौत ऑक्सीजन की कमी (Lack of oxygen) से नहीं हुई है। किसी भी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश ने स्वीकार नहीं किया है कि उनके यहां कोई भी मौत ऑक्सीजन की कमी से हुई है। वहीं कोरोना की दूसरी लहर के दौरान देखने को मिला था कि सभी राज्यों में मेडिकल ऑक्सीजन (medical oxygen) की मांग में अभूतपूर्व बढ़ोतरी हुई थी। केंद्र सरकार द्वारा राज्यसभा में दिए गए बयान के बाद देश की राजनीति में उबाल आ गया है।

इसे भी पढ़ें: नाबालिग मॉडल के साथ होटल में गैंगरेप की कोशिश, हिरासत में आरोपी

विपक्ष सरकार पर हमलावर है। बसपा (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने ने भी केंद्र सरकार के इस बयान पर सवाल उठा दिया है। मायावती ने कहा है कि जनता में ऐसे मिथ्या बयानों से केन्द्र के प्रति अविश्वास पैदा हो रहा है। कोरोना महामारी की तीसरी लहर आएगी तो क्या होगा? यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण और अति-दुःखद है कि ऑक्सीजन की कमी से मौतें नहीं होने का दावा किया जा रहा है।

मायावती ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा है कि ‘भारत में ऑक्सीजन की कमी से कोरोना की दूसरी लहर में खासकर जो अफरातफरी व मौतें आदि हुईं. तो उससे निपटने के लिए केन्द्र सरकार को विदेशी सहायता तक भी लेनी पड़ी. यह किसी से भी छिपा नहीं है. फिर भी ऑक्सीजन की कमी से मौतें नहीं होने का दावा करना अति दुर्भाग्यपूर्ण व अति-दुःखद।’

वहीं उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है कि ‘ऐसे मिथ्या बयानों से जनता में केन्द्र के प्रति अविश्वास भी पैदा हो रहा है कि आगे कोरोना की तीसरी लहर अगर आई तो क्या होगा? जबकि केन्द्र एवं राज्य सरकारों की भी प्राथमिकता व उत्तरदायित्व जनता के प्रति शत-प्रतिशत होना चाहिए व राजनैतिक एंव सरकारी स्वार्थ के प्रति कम।’

इसे भी पढ़ें: यूपी में सभी ग्राम पंचायतों में बनेंगे सचिवालय, 58,189 कंप्यूटर ऑपरेटरों की होगी तैनाती

- Advertisement -
spot_img
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -