spot_img
Saturday, September 18, 2021

देवबंद के मौलाना ने तालिबान का किया समर्थन, कहा- बदल गया है वो, भारत सरकार दे मान्यता

- Advertisement -
- Advertisement -

सहारनपुर। देवबंद के मौलाना और पूर्व मंत्री मौलाना मसूद मदनी (Maulana Masood Madani) ने तालिबान की वकालत शुरू कर दी है। तालिबान का समर्थन करते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि तालिबान (Taliban) इस बार बदलकर आया है। उससे भारत सरकार को बात करनी चाहिए और उसे मान्यता दे देनी चाहिए। मौलाना ने अफगानिस्तान में हालात सामान्य होने का दावा करते हुए कहा कि ‘देश में कोई भगदड़ नहीं है, जो काबुल एयरपोर्ट पर हुआ उसकी जिम्मेदारी अमेरिका की है क्योंकि उनके ही कब्जे में अभी एयरपोर्ट है।’

इसे भी पढ़ें : योगी सरकार ने पेश किया अनुपूरक बजट, शिक्षा मित्र, आशा और आंगनबाड़ी वर्कर्स की बढ़ेगी सैलरी

मौलाना मसूद मदनी ने कहा है कि काबुल एयरपोर्ट की जो तस्वीरें सामने आई हैं, वो सिक्योरिटी का मामला है। इस बात को हमे समझाना होगा कि उनके विरोधी इस बात का हव्वा बना रहे हैं लेकिन ऐसा नहीं हैं। काबुल एयरपोर्ट की सिक्योरिटी अमेरिकी कमिटमेंट के तहत तालिबान नहीं करेगा। इसकी जिम्मेदारी अमेरिका के पास तब तक रहेगी जब तक वो अपने लोगों को अफगानिस्तान से निकाल नहीं लेता है।

आम माफ़ी का ऐलान
पूर्व मंत्री ने तालिबान की वकालत करते हुए कहा कि कहीं पर भी अफगानिस्तान में भगदड़ नहीं है। हां, सिर्फ काबुल एयरपोर्ट को छोड़कर। उसकी जिम्मेदारी अमेरिका के पास है। एयरपोर्ट पर जो भगदड़ हुई, जिस जहाज से गिरकर लोग मरे हैं, वो अमेरिका का ही जहाज था। अमेरिका की गोली से ही एयरपोर्ट पर लोगों की मौत हुई है। मौलाना मसूद मदनी ने कहा कि पिछली बार जब अफगानिस्तान में मुल्ला उमर की तालिबान सरकार बनी थी तो उन्होंने शरीयत कानून लागू किया था।

उस वक़्त सख्ती ज्यादा थी लेकिन इस बार तालिबान ने खुद में बदलाव किया है। उन्होंने आम माफ़ी का भी ऐलान भी कर दिया है। अमेरिका के साथ मिलकर जिन अफगानों ने हजारों लोगों को मारा है उन सब को माफ़ कर दिया गया है। वहीं महिलाओं को हिजाब में रहकर काम करने की भी इजाजत दी है। मौलाना मसूद मदनी का कहना है कि भारत सरकार को उनसे बात करनी चाहिए और तालिबान सरकार को मान्यता देनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें : Alert: उत्तर भारत में दोबारा सक्रिय होगा मानसून, इन राज्यों में होगी भारी बारिश

- Advertisement -
spot_img
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -