सीएम योगी को हटाने के लिए भगवान की शरण में पहुंचे अखिलेश, मोहसिन रजा ने किया कटाक्ष

18

लखनऊ। समाज का कोई क्षेत्र ऐसा नहीं बचा है जहां राजनीति न घुस गई हो। आलम यह है कि राजनेता पूजा-पाठ भी रजनीति के लिए करने लगे हैं। चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी का जनेऊ जहां उनके कपड़े के ऊपर आ जाता है वहीं आज सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश से योगी सरकार को हटाने के लिए भगवान के दर्शन कर पूजा-पाठ किया है। अखिलेश के पूजा-पाठ को सीएम योगी को हटाने के लिए इसलिए जोड़ा जा रहा है, क्योंकि अखिलेश ने खुद दर्शन करने के बाद कहा कि हम भगवान से प्रार्थना करेंगे कि यह सरकार जाए और जनता से अपील भी है कि जब भी मौका मिले तो सरकार को हटाए। बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज सुबह चित्रकूट में कामदगिरी की परिक्रमा की और भगवान कामतानाथ के दर्शन कर उनका आशीर्वाद लिया। इस दौरान उन्होंने कहा, यह एक पवित्र स्थल है और यहां से आवाज जाएगी तो दूर-दूर तक जाएगी।

इसे भी पढ़ें: मोदी सरकार पर फिर से बरसे राहुल गांधी, किसानों के आंदोलन पर कही ये बात 

इस दौरान अखिलेश यादव ने बदायूं घटना और राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर कहा कि कानून केवल उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय तक रह चुका है। प्रदेश में जंगलराज कायम हो गया है। सबसे ज्यादा फर्जी मुठभेड़ और हिरासत में मौतें उत्तर प्रदेश में हो रही हैं। उन्होंने कहा चित्रकूट में जो भी विकास कार्य नजर आ रहा है वह सब सपा सरकार के समय का है। चार साल भाजपा की सरकार को हो गए यहां हवाई पट्टी तक नहीं बन पाई। बिजली के तार तक नहीं सही हो सके, पूरा प्रदेश बिजली कटौती से जूझ रहा है, बिजली काफी मंहगी हो गई है। बता दें इससे पहले अखिलेश यादव ने कोरोना वैक्सीन पर भी सवाल उठाते हुए कहा था कि मुझे भाजपा पर भरोसा नहीं है। जब सपा की सरकार आएगी तो सबको फ्री में वैक्सीन लगवाई जाएगी।

वहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के चित्रकूट मंदिर में दर्शन करने पर राज्य अल्पसंख्यक कल्याण विभाग मंत्री मोहसिन रजा ने कटाक्ष करते हुए कहा कि दरगाहों और मजारों पर चादर चढ़ाने वाले लोग, अपने सरकारी दफ्तरों में रोजा पार्टी कराने वाले लोग, कारसेवकों पर गोली चलवाने वाली सरकार की विरासत पाने वाले लोग आज चित्रकूट जा रहे हैं। उन्होंने कहा, यह सब मुझे बहुत अजीब लग रहा है, मुझे समझ नहीं आ रहा कि इस पर मैं क्या कहूं? उन्होंने एक शेर पढ़ते हुए कहा कि हैरत है तुमको मंदिर में देखकर ये अखिलेश, क्या बात हो गई तुमको राम याद आ गए।

इसे भी पढ़ें: राजद्रोह से जुड़े मामले में बयान दर्ज कराने रंगोली के साथ पुलिस स्टेशन पहुंचीं कंगना