अखिलेश को सता रहा भाजपा की वैक्सीन का डर, लगवाएंगे सपा की वैक्सीन

61

लखनऊ। भाजपा पर बांटवारे की राजनीति करने का आरोप लगाने वाले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कोरोना वैक्सीन को लेकर विवादित बयान दिया है। भाजपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कोरोना वैक्सीन को भी भाजपा का बता डाला। उन्होंने कहा, कोरोना वायरस की वैक्सीन मैं अभी नहीं लगवाऊंगा, क्योंकि मुझे भाजपा पर यकीन नहीं है। जब सपा की सरकार आएगी तब मैं सबको फ्री की वैक्सीन लगवाऊंगा। अखिलेश यादव के बयान के बाद सोशल मीडिया पर जमकर उनकी खिल्ली उड़ाई जानी शुरू हो गई है। कुछ लोग सवाल कर रहे हैं वैक्सीन को उन्होंने बता दिया कि भाजपा की है। लेकिन क्या कोरोना वायरस सपा का है जो उनकी सरकार आने का इंतजार करेगा। कुछ लोग सवाल दाग रहे हैं कि अगर सपा की सरकार नहीं आएगी तो क्या करेंगे। तो वहीं कुछ लोग उनके पूर्व मुख्यमंत्री होने पर अफसोस जता रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: ‘मेरी करनी का फल‘ लिखकर महिला इंस्पेक्टर ने लगाई फांसी, मौत

वहीं अखिलेश यादव ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा है कि जो सरकार ताली व थाली बजवा रही थी, वह वैक्सीनेशन को लेकर इतनी बड़ी चेन क्यों बनवा रही है। ताली और थाली से ही कोरोना को भगा दें न। उन्होंने कहा, मैं भाजपा की वैक्सीन पर भरोसा कैसे कर सकता हूं। जब हमारी सरकार बनेगी तो सभी को फ्री में वैक्सीन लगवाई जाएगी। ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या जनता और सरकार प्रदेश में सपा की सरकार बनने का इंतजार करेगी। फिलहाल अखिलेश का यह बयान किसी के गले नहीं उतर रहा है।

इस मौके पर अयोध्या से आए साधु-संत, मौलाना और सिख समुदाय के लोगों ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की। इसके बाद अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि गंगा-जमुनी तहजीब यहां की पहचान रही है और यह एक दिन में नहीं बनी है। इसे बनाने में हजारों वर्ष लगे हैं। उन्होंने कहा, मैं बहुत धार्मिक इंसान हूं, मेरे घर के अंदर और बाहर मंदिर है। भगवान राम किसी एक के नहीं बल्कि सबके हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि अयोध्या के किसानों की भी बात सुनी जाए, जिनकी जमीने जबरन अधिग्रहित कर ली गई हैं। उन्होंने कहा अभी अयोध्या में सिर्फ दो दिन दिवाली मनाई जाती है। अगर हमारी सरकार बनी तो यहां पूरे साल दिवाली मनेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार में आने के बाद अयोध्या नगर निगम का सभी टैक्स हटा दिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: अतीक के लाल बंगले पर टिकी पुलिस की नजर, इसी के लिए प्रॉपर्टी डीलर की देवरिया जेल में हुई थी पिटाई