बिना अनुमति के पदयात्रा निकाल रहे अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने किया गिरफ्तार

30

ललितपुर। हाड़ कंपा देने वाली सर्दी के बीच देश में दो तरह की स्थिति बन गई है। एक तरफ कृषि कानूनों के मूद्दे पर किसान दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरह ठंड से हो रही गायों की मौत को कांग्रेस मुद्दा बनाने में लगी हुई है। हालांकि दोनों मुद्दों में कांग्रेस का अहम रोल है। क्योंकि कांग्रेस इन्हीं मुद्दों के सहारे अपनी सियासी जमीन तलाश रही है। इसी के तहत उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को आज दोपहर ललितपुर की पुलिस ने दैलवारा कस्बे के निकट से करीब डेढ़ सौ समर्थकों के साथ गिरफ्तार कर लिया है। वह गाय बचाओ-किसान बचाओ रैली निकाल रहे थे। वहीं कांग्रेस नेताओं ने पुलिस पर बल प्रयोग करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस नेताओं की तरफ से कहा जा रहा है कि इस दौरान जिलाध्यक्ष से दो दर्जन के करीब पार्टी के कार्यकर्ता चोटिल हुए हैं।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर को पीएम मोदी ने दी बड़ी सौगात, आयुष्मान भारत योजना से सुधारेंगे लोगों की सेहत

गिरफ्तार किए गए सभी कांग्रेस नेताओं को पुलिस लाइन में रखा गया है। ललितपुर के एएसपी बृजेश कुमार सिंह ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि बिना अनुमति के पदयात्रा निकालने पर अड़े कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू व जिलाध्यक्ष बलवंत सिंह राजपूत समेत 50-60 कार्यकर्ताओं को दैलवारा कस्बे के पास से आज दोपहर 12 बजे के करीब गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को पुलिस लाइन में बैठाया गया है।

वहीं ललितपुर के जिला कांग्रेस अध्यक्ष बलवंत सिंह राजपूत ने फोन पर बताया कि प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की अगुवाई में गाय बचाओ-किसान बचाओ पदयात्रा के दौरान गौशाला जाते समय पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए करीब डेढ़ सौ कार्यकर्ताओं के साथ गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के बल प्रयोग करने से दो दर्जन के करीब कार्यकर्ता चोटिल हुए हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि गाय के नाम पर सत्ता में आने वाली भाजपा सरकार को न तो गाय की चिंता है और न ही किसान की। उन्होंने खुलासा करते हुए कहा कि सौजना और अझमरा की गौशालाओं में बंद गायें भूख और ठंड से मर रही हैं। साथ ही जिंदा गायों को पक्षी नोंच-नोंच कर खा रहे हैं। उन्होंने योगी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि अपने पाप छिपाने के कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ता को प्रताड़ित करवा रही है।

इसे भी पढ़ें: योगी ने प्रदेश छोड़ने तो शिवराज ने जमीन में गाड़ देने की दी चेतावनी