Friday, October 22, 2021

धरने पर बैठे अखिलेश यादव को लखनऊ पुलिस ने हिरासत में लिया

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Samajwadi Party) को लखनऊ पुलिस हाउस अरेस्ट कर लिया था लेकिन सोमवार सुबह जब वो लखीमपुर के लिए निकले तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इसके बाद अखिलेश यादव अपने आवास के बाहर ही धरने पर बैठ गए हैं। वहीं भारी पुलिस बल को पूर्व सीएम के घर के बाहर तैनात कर दिया गया है। सपा कार्यालय और पार्टी अध्यक्ष के घर के बाहर दोनों ओर सड़क पर ट्रक खड़ा करके रास्ता ब्लॉक कर दिया गया है। वहीं लगातार पार्टी के कार्यकर्ता और नेता लगातार कालिदास मार्ग स्थित चौराहे पर जुट रहे हैं। यह सभी पार्टी ऑफिस जाने की जिद्द कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें : केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ के बेटे आशीष सहित 14 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

बढ़ते हुए तनाव को देखते हुए रैपिड एक्शन फोर्स लगाने की तैयारी प्रशासन कर रहा है। लोगों को रोकने के लिए दोनों तरफ से बैरिकेडिंग भी की गई है। पार्टी के कार्यकर्ता कालिदास मार्ग चौराहे पर भी धरना दे रहे हैं और जमकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। रविवार को लखीमपुर खीरी में हुई घटना के बाद अखिलेश यादव ने कहा था कि सोमवार को सुबह वो लखीमपुर जायेंगे। वरिष्ठ नेताओं को सपा अध्यक्ष ने पार्टी कार्यालय सुबह बुलाया था। इसके बाद पुलिस ने पूर्व सीएम को हाउस अरेस्ट कर लिया था।

इस बीच बागपत के रमाला थाना क्षेत्र के किशनपुर बिराल बस स्टैंड पर भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) कार्यकर्ताओं ने लखीमपुर खीरी की घटना को सड़क पर उतर गए और दिल्ली सहारनपुर हाइवे को जाम कर दिया। सूचना पर रालोद कार्यकर्ता और सैकड़ों की संख्या में क्षेत्र के किसान भी मौके पर पहुंचे और हाईवे पर धरना देकर बैठ गए। हाई-वे जाम किए जाने की जानकारी होने पर कई थानों का पुलिस बल मौके पर पहुंच चुकी है। वहीं संगठन की ओर से लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर सोमवार को देश भर के हर जिले में विरोध प्रदर्शन करने का फैसला लिया गया है।

इसे भी पढ़ें : यूपी: लखीमपुर जाने की कोशिश में पुलिस हिरासत में प्रियंका वाड्रा

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -