Saturday, October 16, 2021

लखीमपुर खीरी हिंसा : BJP पर मायावती ने साधा निशाना, कहा – दो मंत्रियों की संलिप्तता देख नहीं लगता न्याय होगा

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ। लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर प्रदेश में यूपी में सियासत का दौर जारी है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने घटना पर दुख जताते हुए बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। बसपा अध्यक्ष ने कहा है कि लखीमपुर खीरी कांड में बीजेपी के दो मंत्रियों की संलिप्तता की वजह मामले की सही जांच हो पायेगी। मुझे ऐसा नहीं लगता है। इस घटना में 8 लोगों की मौत अब तक हो चुकी है। ऐसे में हमारी पार्टी मांग करती है कि घटना की न्यायिक जांच कराई जाए।

इसे भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी हिंसा : प्रियंका गांधी ने गेस्ट हाउस के कमरे में लगाई झाड़ू, रॉबर्ट वाड्रा ने कही ये बड़ी बात

मायावती ने ट्वीट कर कहा है कि ‘बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र को रविवार देर रात लखनऊ में उनके निवास पर नजरबंद कर दिया गया जो अभी भी जारी है, ताकि उनके नेतृत्व में पार्टी का प्रतिनिधिमंडल लखीमपुर खीरी जाकर किसान हत्याकांड की सही रिपोर्ट न प्राप्त कर सके. यह अति-दुःखद व निंदनीय है।’

बसपा सुप्रीमो ने कहा है कि ‘यूपी के दुखद खीरी कांड में भाजपा के दो मंत्रियों की संलिप्तता के कारण इस घटना की सही सरकारी जांच व पीड़ितों के साथ न्याय और दोषियों को सख्त सजा संभव नहीं लगती है। इसलिए इस घटना की, जिसमें अब तक 8 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है, बीएसपी इस घटना की न्यायिक जांच की मांग करती है।’

बीजेपी पर निशाना साधते हुए बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि ‘हम लखीमपुर जाना चाहते हैं। क्या वो काले कानून (कृषि कानूनों) का विरोध करने पर किसानों को कारों से कुचल देंगे? कानून-व्यवस्था की गड़बड़ी का हवाला देकर हमें आगे लखीमपुर खीरी जाने नहीं दिया जा रहा है। अगर वे हमें नजरबंद करना चाहते हैं तो हम लिखित आदेश मांगते हैं।

पुलिस की ओर से एक नोटिस हमे सौंपा गया है, जिसमें कहा गया है कि लखीमपुर में हमारा कार्यक्रम कानून-व्यवस्था की स्थिति के कारण स्थगित कर दिया गया है। पार्टी ने अपने कार्यक्रम को स्थगित करने का फैसला किया है।

इसे भी पढ़ें : वरुण गांधी ने दिखाए बागी तेवर, ट्विटर BIO से हटाया BJP का नाम

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -