Friday, October 22, 2021

लखीमपुर खीरी हिंसा : CM योगी का बड़ा बयान, कहा – बिना सबूत सिर्फ आरोप पर नहीं होगी किसी की गिरफ्तारी

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर खीरी हिंसा को दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। सीएम ने कहा है कि सरकार इसकी तह तक जाएगी। हिंसा का लोकतंत्र में स्थान नहीं है। कानून भी सभी के लिए बराबर है। उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट की ये रूलिंग है कि किसी की गिरफ्तारी के लिए पहले पर्याप्त सबूत होने चाहिए। सिर्फ आरोप के आधार पर ही किसी गिरफ्तारी नहीं होगी। हमने सबूत मिलने के बाद ही किसी की गिरफ्तारी की है। भले ही वो बीजेपी विधायक हो या विपक्ष का कोई नेता हो।

इसे भी पढ़ें : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को जब चाहे बर्बाद कर सकते हैं PM नरेंद्र मोदी : रमीज राजा

विपक्ष के नेताओं के आरोपों को लेकर सीएम ने कहा है कि तहरीर के आधार पर एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। एक बार जांच पूरी होने दीजिये। दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर निशाना साधते हुए सीएम योगी ने कहा कि वो अपना राज्य तो संभाल नहीं पा रहे हैं। पुलिस की गोली से किसान मारे जा रहे हैं। उनके प्रति कोई सहानुभूति नहीं है। इस ही तरह पंजाब के सीएम अपना डीजीपी और मुख्य सचिव नहीं तय पा रहे हैं। राज्य में पार्टी के अंदर ही झगड़ा है और इस कमी को छुपाने के लिए ऐसी सियासत विपक्ष कर रहा है।

राहुल और प्रियंका से सीएम योगी ने सवाल किया कि देश मार्च 2020 से कोरोना संकट से जूझ रहा है। यूपी की 25 से करोड़ की आबादी है। विपक्षी दलों में कौन से नेता उस समय बाहर निकले थे। जब महामारी के समय जनता जूझ रही थी। तो प्रदेश सरकार ही उनके साथ थी। मार्च 2020 से 2021 तक हालात ऐसे ही थे लेकिन तब कोई नहीं आया।

जिन किसानों को छत्तीसगढ़ में गोलियों से भूना गया है। वहां भूपेश भघेल क्यों नहीं गए हैं। कांग्रेस ने कोरोना काल में 1000 बसों की लिस्ट दी लेकिन जब हमने जांच कराई तो उसमे से स्कूटर के नंबर निकले। ऐसा शर्मनाक भद्दा मजाक सिर्फ वही पार्टी ही कर सकती है। लखीमपुर हिंसा मामले को लेकर सीएम योगी ने कहा है कि कानून अपना काम करेगा और किसी के दबाव में काम नहीं होगा। एक एसआईटी और ज्यूडिशियल कमीशन गठित किया गया है, जो मामले की तह तक जाएगा।

इसे भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी हिंसा : पुलिस को आशीष मिश्रा के खिलाफ मिला अहम सबूत! आरोपी की मुश्किलें बढ़ना तय

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -