Friday, October 22, 2021

लखीमपुर खीरी हिंसा : अजय मिश्रा ने अमित शाह से की मुलाकात, मामले को लेकर दी सफाई, जानें क्या कहा…

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर उत्तर प्रदेश में सियासत का दौर जारी है। इस बीच गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा ने दिल्ली पहुंचकर गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात कर मामले को लेकर सफाई दी है। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच बैठक लगभग बीस मिनट तक चली। अजय मिश्रा को अमित शाह ने निर्देश दिए हैं कि वो जांच में करें। लखीमपुर में हुई हिंसा के बाद अजय मिश्रा का यह पहला दिल्ली का दौरा है। विपक्ष भले ही अजय मिश्रा को मंत्री पद से हटाने की मांग कर रहा है लेकिन सूत्रों का कहना है कि ऐसा नहीं होगा। बताया है कि लखीमपुर में हुई हिंसा में अजय मिश्रा की कोई भूमिका नहीं है। वहीं उनके बेटे की भी कोई भूमिका नजर नहीं आ रही है। ऐसे में विपक्ष की मांग को सरकार द्वारा नजरअंदाज कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी हिंसा : आशीष मिश्रा ने की फायरिंग, किसानों को गाड़ी से कुचला, दर्ज FIR में लिखी हैं ये बातें

हिंसा के बाद केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के सहित 14 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। इन सभी के खिलाफ लखीमपुर के तिकुनिया थाने में बहराइच नानपारा के जगजीत सिंह की तहरीर पर बलवा, हत्या, और आपराधिक साजिश सहित अन्य गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज किया गया है। समझौते के समय राकेश टिकैत ने आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी और अजय मिश्रा की मंत्री पद से बर्खास्तगी की मांग की थी।

उत्तर प्रदेश सरकार विपक्ष के नेताओं को लखीमपुर खीरी इजाजत दे दी गई है। राहुल, प्रियंका सहित पार्टी के पांच नेता लखीमपुर जाएंगे। इस दल में पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी, छ्त्तीसगढड के सीएम भूपेश बघेल और सचिन पाइलेट पायलट शामिल हैं। वहीं कांग्रेस नेताओं का काफिला लखनऊ से सीतापुर की ओर निकल चुका है। प्रियंका को सीतापुर में पुलिस ने हिरासत में रखा है, जिन्हे अब रिहा कर दिया जायेगा।

इसे भी पढ़ें : सच्चाई सामने लाना नहीं चाहती सरकार, मामले की हो रही लीपापोती, प्रियंका के इस कमेंट पर भड़के अखिलेश

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -