Saturday, October 16, 2021

मनीष गुप्ता हत्याकांड : आरोपी दारोगा जेएन सिंह, अक्षय ​मिश्रा गिरफ्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

- Advertisement -
- Advertisement -

गोरखपुर। कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की हत्या के मामले में फरार चल रहे मुख्य आरोपी दरोगा जेएन सिंह और चौकी इंचार्ज अक्षय ​मिश्रा को गिरफ्तार कर 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है। रविवार देर रात स्पेशल कोर्ट में एसआईटी ने आरोपी पुलिसकर्मियों को पेश किया। जहां कोर्ट ने जेएन सिंह और अक्षय मिश्रा को 14 सप्ताह के लिए ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया। दोनों आरोपियों को बाद में एसआईटी की रिमांड पर दे दिया गया है। जहां दोनों से ही रामगढ़ताल थाने में ही घंटों पूछताछ की गई।

इसे भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी हिंसा : वरुण गांधी का बड़ा दावा, कहा – हिंसा को हिंदू बनाम सिख बनाने की जारी है कोशिश

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद दोनों आरोपियों का मेडिकल थाने पर ही कराया गया, जिसके बाद उन्हें भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया। जहां आरोपी पुलिसकर्मियों को 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया गया। आरोपियों के वकील पीके दुबे ने बताया है कि कोर्ट में पेश होने के बाद आरोपियों की जमानत की अपील की जाएगी। जानकारी मिली है कि फरार आरोपी कोर्ट में सरेंडर करने की कोशिश कर रहे थे। इसकी खबर पुलिस को लग गई, जिसके बाद दोनों आरोपियों को रामगढ़ताल इलाके से गिरफ्तार किया गया।

यह है पूरा मामला
सोमवार (27 सितंबर) रात रामगढ़ताल थाना क्षेत्र के कृष्णा पैलेस होटल में कानपुर के रहने वाले 36 साल के रियल एस्टेट कारोबारी मनीष गुप्ता अपने दो दोस्तों प्रदीप और हरी चैहान के साथ ठहरे थे। देर रात होटल में जांच के लिए पुलिस पहुंची थी। तीनों ने पुलिस को अपना पहचान पत्र दिखाया। पुलिस की बर्बर पिटाई के मनीष की मौत हो गयी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मनीष के सिर, चेहरे, हाथ में गहरे चोट मिले हैं।

पीड़ित परिवार सीबीआई जांच की भी मांग कर रहा है। मामले की गंभीरता को देखते हुए योगी सरकार ने सीबीआई जांच करवाने की संस्तुति केंद्र सरकार को भेज दी है। मामले को पीड़ित परिवार के कहने पर गोरखपुर से कानपुर ट्रांसफर कर दिया है। जब तक सीबीआई मामले की जांच शुरू नहीं करती है। तब तक मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी जांच करेगी।

इसे भी पढ़ें : प्रियंका ने भरी हुंकार, कहा – आ चुका है सरकार बदलने का समय, किसानों को PM ने कहा ‘आंदोलनजीवी’ तो CM ने बताया ‘उपद्रवी’

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -