spot_img
Friday, September 17, 2021

न्याय की उम्मीद में पूर्व फौजी ने 21 दिनों से डीप फ्रीजर में रखा है बेटे का शव

- Advertisement -
- Advertisement -

सुल्तानपुर। उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर (Sultanpur) के कूरेभार क्षेत्र एक पूर्व फौजी ने न्याय की उम्मीद में अपने बेटे का बीते 21 दिनों से शव डीप फ्रीजर में रखा हुआ है। मामले का संज्ञान जिला प्रशासन ने लेते हुए पूर्व फौजी को अंतिम संस्कार नहीं करने पर नोटिस जारी कर दिया है। रविवार को मृतक के घर मजिस्ट्रेट के तौर पर पहुंचे मुख्य राजस्व अधिकारी शमशाद हुसैन ने बताया कि सरैया मझौवा गांव में रहने वाले रिटायर सूबेदार शिवप्रसाद पाठक के बेटे की दिल्ली में एक अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। इसके बाद से ही पूर्व फौजी ने बेटे शिवांक का शव न्याय पाने की उम्मीद में डीप फ्रीजर में रखा है।

इसे भी पढ़ें: नहीं आएगी कोरोना की तीसरी लहर, अक्टूबर तक संक्रमण से मुक्त हो जाएंगे ये प्रदेश

शमशाद हुसैन ने बताया कि शिवांक की मौत के बाद दोबारा पोस्टमार्टम कराने और मृतक की पत्नी गुरलीन कौर और ससुर सुरेंद्रजीत सिंह सहित 4 लोगों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराने की अर्जी मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट किरण गोंड ने खारिज कर दी है लेकिन मृतक का परिवार बिना घटना के खुलासे के बेटे के शव का अंतिम संस्कार कराने के लिए तैयार नहीं है। उन्होंने बताया है कि स्थानीय प्रशासन की ओर से परिजन को संयुक्त रूप से नोटिस देने के साथ ही शव का अंतिम संस्कार नहीं करने पर केस दर्ज करने की चेतावनी भी दी गयी है। परिजनों को समझाने की कोशिशें जारी हैं।

रिटायर सूबेदार शिवप्रसाद पाठक का बेटा शिवांक दिल्ली में 2012 में एक कॉल सेंटर में नौकरी करता था, जिसकी 1 अगस्त 2021 को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। शिवांक ने 2012 में 2012 में एक व्यक्ति के साथ मिलकर कंपनी खोली थी, जिसमे एक युवती गुरलीन कौर को एचआर के पद पर नियुक्त किया था। शिवांक ने गुरलीन के साथ 2013 में शादी कर ली थी।

पूर्व फौजी का आरोप है कि शिवांक की संपत्ति पर युवती की नजर थी। उनका कहना है कि उनके बेटे की मौत सामान्य नहीं है बल्कि हत्या है लेकिन पुलिस मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही है। पूर्व फौजी सुल्तानपुर की सांसद मेनका गांधी से मिल चुके हैं, जिन्होंने रिटायर सूबेदार शिवप्रसाद पाठक को आश्वस्त किया है कि वह दिल्ली पुलिस आयुक्त से बात कर न्याय दिलाएंगी।

इसे भी पढ़ें: राम मंदिर जाने वाली सड़क का नाम होगा ‘कल्याण सिंह मार्ग’, CM योगी से समर्थकों ने की ये बड़ी मांग

- Advertisement -
spot_img
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -