हैवानियत की सारी हदें पार.. महिला से सामूहिक दुष्कर्म कर उसके प्राइवेट पार्ट में डाला रॉड,  और फिर.. 

116

न जाने कब तक इंसानियत को शर्मसार कर देने वाले मामलों के आने का सिलसिला जारी रहेगा। आखिर कब तक इंसानियत शर्मसार होती रहेगी। आखिर कब तक महिलाओं की आबरू को ये दरिंदे यूं ही सरेआम निलाम करते रहेंगे,  और अपने आपको कानून का रक्षक कहने वाले ये खाकीवर्दी मूकदर्शक की भूमिका में नजर आएंगे। यकीनन… मसला संजीदा है। अगर समय रहते ही कुछ न किया गया तो स्थिति दुरूह हो सकती है। हम यह सब लिख रहे हैं, चूंकि इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला एक ऐसा ही मामला  उत्तर प्रदेश जिला बुदायूं  से सामने आया है, जहां कुछ दरिंदों ने मिलकर पहले तो  महिला के साथ समाूहिक दुष्कर्म किया  और इसके बाद इन दरिंदों ने अपनी दरिंदगी की सारी हदों को पार करते हुए पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में रॉड डाल दी, जिससे महिला के गुप्तांग में गंभीर चोट आई। अधिक  रक्तस्त्राव होने की वजह से पीड़िता की हालत बेहद नाजूक हो गई। ये भी पढ़े – महफूज नहीं महिलाएं..चलती ट्रेन में हुई लड़की के साथ ऐसी हरकत, विरोध करने पर आरोपी ने किया ऐसा हाल

वहीं रूह कंपा देने वाला यह पूरा मामला जब पुलिस के संज्ञान में पहुंचा तो  अपने आपको कानून का रक्षक कहने वाले इन खाकीवर्दी वालों ने मौका-ए-वारदात का जाजया  लेना तक मुनासिब न समझा.. इसके उलट आरोपियों के पक्ष में पुलिसवालों ने अपनी तकरीरों में कहा कि महिला की  मौत कूएं में कूदने की वजह से हुई है, लेकिन कहतें हैं कि न झूठ के पांव ज्यादा लंबे नहीं होते हैं।  विगत 3 जनवरी को हुई  इस वारदात की जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो पूरे सच का खुलासा हो  गया और फिर पुलिसवालों की सारी तकरीरे धरी की धऱी रह गई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने इस पूरे मामले में संलिप्त  दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पीड़िता के  परिजनों ने इन आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने की बात कही है।  फिलहाल,  इस मामले मेें एक आरोपी अभी फरार बतााया  जा रहा है। पुलिस उसको पकडने के लिए चार टीमों का गठन कर चुकी है।  बताया जा रहा है कि इन आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय  सुरक्षा के तहत मामला  दर्ज किया जाएगा।

क्या कहना है एसएसपी 
वहीं, इस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटे एसएसपी संकल्प शर्मा का कहना है कि उघैती थाना क्षेत्र में लगभग 50 वर्षीय महिला का शव मिला था। पोसट्मार्टम रिपोर्ट आने के बाद आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है ।  इनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।  ये भी पढ़े – ‘मेरी करनी का फल‘ लिखकर महिला इंस्पेक्टर ने लगाई फांसी, मौत