अमेरिका में हो सकता है तख्तापलट, दूसरे कार्यकाल की तैयारी में जुटा ट्रंप प्रशासन

817

अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव में हार मिलने के बाद डोनाल्ड ट्रंप कुछ बड़ा करने की तैयारी में हैं, ट्रंप हार मानने को तैयार नहीं हैं। इस बीच उन्होंने अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन में कुछ बदलाव किए हैं। जिसके बाद यह कयास लगाए जा रहे हैं कि राष्ट्रपति ट्रंप दुनिया के सबसे पुराने लोकतांत्रिक देश तख्तापलट कर सकते हैं। ऐसा कयास डोनाल्ड ट्रंप भतीजी मैरी एल ट्रंप के ट्वीट के बाद लगाया जा रहा है। डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडन की जीत पर उनकी तरफ से सवाल उठाए गए हैं। वहीं विदेश मंत्री माइक पोम्पियो का कहना है कि, शांतिपूर्ण ढंग से ही सत्ता का हस्तांतरण किया जाएगा और अपना दूसरा कार्यकाल ट्रंप प्रशासन शुरू करेगा।

ट्रंप सरकार द्वारा चुनाव के नतीजों के बाद से ही वरिष्ठ अधिकारियों को उनके पद से हटाया जा रहा है और उनकी स्थान पर ट्रंप के खास लोगों को उन पदों पर नियुक्ति दी जा रही है। बीते सोमवार को ही रक्षा मंत्री मार्क एस्पर को ट्रंप ने हटा दिया। उनके स्थान पर अब राष्ट्रीय आतंकवाद निरोधक केंद्र का डायरेक्टर क्रिस्टोफर मिलर को बनाया गया है। चुनावी नतीजों के बाद सिर्फ मार्क एस्पर को ही नहीं बल्कि 24 घंटे में ही कई अधिकारियों को हटाया जा रहा है। इसके बाद ही सैन्य नेतृत्व और असैन्य अधिकारियों के बीच में अफवाहों का माहौल गर्म है।

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा को आतंकवादी कहने वाले जिम्मा एंथनी टाटा को पेंटागन के कार्यवाहक नीति प्रमुख बनाया गया है और इस पर पहले से मौजूद जेम्स एंडरसन को हटा दिया गया है। अपने ट्वीट की वजह से टाटा हमेशा अमेरिकन मीडिया की सुर्ख़ियों में बने रहते हैं, उन्हें ट्रंप का समर्थक माना जाता है। वहीं ट्रंप द्वारा हार न स्वीकार करने को लेकर निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन का कहना है कि, ये शर्मिंदगी भरा है। जो राष्ट्रपति की विरासत को नुकसान पहुंचाएगा। मुझे इस बात की भी उम्मीद है कि, 20 जनवरी तक सब ठीक हो जायेगा।