spot_img
Saturday, September 18, 2021

महिला के लिए मुसीबत बने उसके कपड़ें, जॉब से धोना पड़ा हाथ, ऐसे बयां किया दर्द

- Advertisement -
- Advertisement -

आज के समय में लोग किसी की पहचान उसके पहनावे से करते है। व्यक्ति का स्वभाव, रहन-सहन सभी उसके पहनावे से ही अंदाजा लगा लेते है। हालांकि हम किसी के पहनावे को लेकर कुछ कह नहीं सकते है, क्योंकि सबसी अपनी पसंद होती है। बहुत सी ऐसी जगह है जहां इस चीज से बचने और और यूनिसन (Unison) दिखने के लिए ऑफिस में ड्रेसकोड (Dress code in office) रखा जाता है, लोग उसे अपनाते भी है लेकिन एक टिकटोक यूजर (TikTok user) के वर्कप्लेस (Work place) पर कोई ड्रेसकोड नहीं था बावजूद इसके उसे नौकरी से निकाल दिया गया।

पहनावे को लेकर जॉब से निकाला

असल में टिकटोक यूजर वनेसा जावला (Vanessa Zavala), जो कि एक बार में वेट्रेस (Waitress in a bar) का काम करती थीं, हालांकि उन्होंने इस बात को शुरूआत में ही लोगों के सामने एक वीडियो द्वारा शेयर कर बताई भी। उन्होंने बताया कि उनके बॉस ने उन्हें जॉब से इसलिए निकाल दिया क्योंकि वो क्रॉप टॉप पहन कर ऑफिस आती थी। उनके बॉस को उनका कपड़ा पहनने का ढंग अच्छा नहीं लगा। अपने इस दर्द को उन्होंने लोगों से बड़े ही दर्द के साथ रोकर सुनाई। उन्होंने कहा कि जिस बार में वो काम करती हैं वहां लड़कियां हर तरह के कपड़े पहनकर आती हैं, यहां तक कि बार की वॉल पर लड़कियों की नेकेड तस्वीरें (Naked pictures) भी लगी हुईं हैं लेकिन फिर भी बॉस को उनके फुल स्लीव्स क्रॉप टॉप से ही क्यों आपत्ति हुई।

आपको बता दें ऐसा तब हुआ जब उनके इस वीडियो के कमेंट सेक्शन में एक यूजर ने रेस्टोरेंट का नाम बता दिया। इसके बाद उनके साथ जो हुआ, वो उन्होंने एक नए वीडियो में बताया। महिला ने बताया कि उनके उस वीडियो को कुछ समय बाद उनके बॉस ने देख लिया। जिसके बाद उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया। महिला ने कहा, ‘सिर्फ किसी यूजर के रेस्टोरेंट का नाम बता देने से मुझे नौकरी से निकाल दिया गया, अब मेरे पास कोई नौकरी नहीं है। उन्होंने सर्कऑस्टिक तरीके से हंसते हुए कहा कि मैं बहुत खुश हूं, यह मेरे लिए सबसे अच्छा दिन है।’

इसे भी पढ़ें-देश में 40 करोड़ लोग हुए बाहुबली, विपक्ष को पीएम मोदी ने दी ये सलाह

- Advertisement -
spot_img
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -