खुलासा: पत्नी ने ही रची बीजेपी नेता की हत्या की साजिश, भाड़े पर बुलाए पेशेवर हत्यारे

428

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के बलिया में बीजेपी नेता की हत्या के लिए आए सुपारी किलर पुलिस के हत्थे चढ़ गए हैं, जिसके बाद पुलिस की पूछताछ में जो खुलासा हुआ है वो चौकाने वाला है। पुलिस का कहना है कि इन पेशेवर हत्यारों को बीजेपी नेता की हत्या की सुपारी उनकी ही पत्नी ने दी थी, जिसके बाद बीजेपी नेता की पत्नी सहित चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। सुखपुरा गांव निवासी बीजेपी नेता ठाकुर अनूप सिंह इस वक़्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और भारत रक्षा मंच के राष्ट्रीय मंत्री हैं। जो वर्ष 2016 में बीजेपी के विधान परिषद के प्रत्याशी रहे थे। उनका और उनकी पत्नी विभा सिंह के बीच पारिवारिक विवाद का केस फैमली कोर्ट बलिया में चल रहा है।

इसे भी पढ़ें: ब्रिक्स सम्मेलन में बोले पीएम मोदी, कहा— आतंकियों का समर्थन करने वाले देश भी ठहराए जाएं दोषी

अनूप सिंह से चल रहे विवाद के बीच पत्नी ने पेशेवर हत्यारों से संपर्क किया और अपने पत्नी की सुपारी दे दी। इसके बाद हुआ वो जिसकी किसी ने उम्मीद नहीं की थी, सुपारी लेने वाले एक किलर ने अनूप से संपर्क किया और उसे पूरे मामले की जानकारी दी और साथ उनकी पत्नी से फ़ोन पर हुई बात का ऑडियो भी सुनाया। इसके बाद अनूप ने तुरंत पुलिस से सम्पर्क किया, जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने बीते मंगलवार को असेगा पेट्रोल पम्प के पास से छोटे सिंह उर्फ सतीश सिंह और मनियर थाना क्षेत्र के मुड़ियारी निवासी अख्तर अंसारी को गिरफ्तार किया।

Wife gave betrayal to BJP leader s murder incidentally saved her life in  ballia - यूपी: पत्नी ने ही दे दी भाजपा नेता की हत्या की सुपारी, संयोग से बची  जान

बीजेपी नेता की हत्या की साजिश राजधानी लखनऊ में एक निजी स्कूल के सामने करने की तैयारी थी। पेशेवर हत्यारों को हत्या के लिए कुछ रकम पहले दे दी गई थी और बाकी रकम उन्हें काम होने बाद देनी थी। विभा और अनूप ने प्रेम विवाह किया था, पति से चल रहे विवाद के बीच पत्नी ने बच्चों की पढ़ाई के सिलसिले में पति से बात की और लखनऊ में बच्चों के एडमिशन कराने की बात की। विभा लखनऊ हत्या की साजिश रच चुकी थी। इस बीच अनूप को भी साजिश की भनक लग गई और वो खुस स्कूल गया ही नहीं और उसने किसी और को ही रुपए लेकर स्कूल भेज दिया।

इसे भी पढ़ें: बस्ती: दलित युवती की हत्या मामले को लेकर एएसपी से मिले राज किशोर सिंह, निष्पक्ष जांच की मांग, भाजपा सरकार पर साधा निशाना