रिसर्च : अब इस नए रास्ते से शरीर में घुस रहा कोरोना वायरस, बढ़ सकता है खतरा

90
coronavirus

नई दिल्‍ली। दुनिया भर को मौत के मुंह में धेकेलने में वाले कोरोना वायरस (Corona Virus) का संक्रमण कम होने का नाम नहीं ले रहा है। अध्ययन के मुताबिक़ अब इसने इन्सान के शरीर में घुसने का नया रास्ता खोज लिया है। यह वायरस अब के प्रोटीन (Protein) के जरिये इंसान के शरीर में प्रवेश कर रहा है। वैज्ञानिक बताते हैं कि यह ख़ास प्रोटीन कोविड-19 को इंसान के शरीर में घुसने का रास्ता प्रदान करते हैं। वैज्ञानिको (Scientists) का यह शोध साइंस जर्लन में प्रकाशित हुआ है। शोध के मुताबिक कोरोना वायरस (Corona Virus)  के बाहरी हिस्से में एक नुकीला और स्पाइक रूप होता है और इनकी बाहरी सतह पर एक ख़ास प्रोटीन होता है, जो मानव शरीर में मौजूद कोशिकाओं के प्रोटीन (Protein) एसीई-2 से संपर्क स्थापित कर लेता है।

इसे भी पढ़ें:-सीरम इंस्टीट्यूट का दावा : इतनी जल्दी नहीं जाएगा कोरोना वायरस, लंबे अरसे तक पड़ेगी टीके की जरूरत

इस तरह से कोरोना वायरस (Corona Virus) उस इंसानी कोशिका का अन्दर घुस जाता है फिर धीरे-धीरे अपनी संख्या बढ़ाता है और फिर इंसान के शरीर पर पूरी तरह से कब्जा कर लेता है, जिससे उसकी जान चली जाती है। बता दें कि वैज्ञानिकों (Scientists) ने इस संबंध में दो शोध किये हैं। एक शोध में वैज्ञनिकों ने पाया कि इंसानी शरीर की कोशिकाओं में मौजूद न्युरोपिलिन-1 नाम का एक प्रोटीन (Protein) होता है जो शरीर में कोरोना वायरस (Corona Virus) के रिसेप्टर की ही तरह काम करता है। यह शोध इंग्लैंड के ब्रिस्टल विश्वविद्यालय के शोध कर्ताओं ने किया।

जर्मनी और फिनलैंड के वैज्ञानिकों ने भी जताई सहमति

उन्होंने ने ही न्यूरोपिलिन-1 प्रोटीन (Protein) के जरिये कोरोना वायरस (Corona Virus) के शरीर में घुसने का पता लगाया है।  शोध के पता चला है कि इंसानी शरीर में मौजूद कोशिका न्यूरोपिलिन-1 प्रोटीन (Protein)के अंश वायरस पर मौजूद थे। वैज्ञानिकों (Scientists) का मानना है कि यह तभी संभव जब यह वायरस इस प्रोटीन को संक्रमित करने की क्षमता रखता हो। इंग्लैंड के वैज्ञानिकों (Scientists) के इस शोध पर जर्मनी और फिनलैंड के वैज्ञानिकों ने भी अपनी सहमति जताई है  कि इन्सान के शरीर में वायरस के प्रवेश का दूसरा रास्ता न्यूरोपिलिन-1 प्रोटीन नामक प्रोटीन (Protein)के रूप में उपस्थित है।

इसे भी पढ़ें:-आईआईएमसी के कर्मचारियों ने ली कोरोना वायरस से सतर्क रहने की शपथ