पीडीपी को झटका, महबूबा के इस कदम से खुश नहीं नेता, संस्थापक सदस्य ने किया किनारा

66

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) प्रमुख महबूबा मुफ्ती की परेशानी खत्म होते दिखाई नहीं दे रही हैं। राज्य से आर्टिकल 370 हटने के बाद खुद को मजबूत करने में जुटी महबूबा को बड़ा झटका लगा है और अब पार्टी के संस्थापक सदस्य मुजफ्फर हुसैन बेग पीडीपी से इस्तीफा दे दिया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता के द्वारा इस्तीफा देने के पीछे पार्टी की नई पॉलिसी है। पिछले दिनों पार्टी ने राज्य के ने दलों के साथ सीटें शेयर कर चुनाव लड़ने का फैसला किया था, जिसके बाद ‘पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन’ (पीएजीडी) बना जो जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनाव में मिलकर लड़ेगा।

इसे भी पढ़ें: दीपावली मिलन के साथ ही अखिलेश और शिवपाल आये साथ, मिल कर लड़ेंगे चुनाव

इस्तीफा देने के बाद मुजफ्फर हुसैन बेग का कहना है कि, नेशनल कॉन्फ्रेंस अधिक सीटों पर चुनाव लड़ रही है। जो पीडीपी के हित में नहीं है। महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला का मैं सम्मान करता हूं और उन्हें शुभकामनाएं भी देता हूं। मैं पीडीपी अपने सिद्धांतों पर छोड़ रहा हूं। इसके आलावा उनका कहना है कि, उनसे पीएजीडी से जुड़े दलों के साथ सीटें शेयर करने के समझौते पर भी उनसे किसी तरह की कोई सलाह नहीं ली गई थी।

pdp

बेग का कहना है कि, ‘मैंने महबूबा मुफ़्ती को बुलाया और पीडीपी से संरक्षक और सदस्य के रूप में इस्तीफे के बारे में बता दिया है। बेग का कहना है कि, अभी उन्होंने अपने भविष्य को लेकर कोई रणनीति नहीं बनाई है लेकिन वो अपने दोस्तों और शुभचिंतकों से सलाह लेकर आगे कोई निर्णय लेंगे। गौरतलब है कि, वर्ष 1998 में जब पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की स्थापना हुई थी तब से ही मुजफ्फर बेग पार्टी से जुड़ गए थे। राज्य में डीडीसी के चुनाव 28 नवंबर से 24 दिसंबर के बीच आठ चरणों में होंगे।

इसे भी पढ़ें: जवानों के बीच पहुंचे पीएम मोदी, कहा- आतंकियों और उनके आकाओं को घर में घुसकर मारता है भारत