योगी ने प्रदेश छोड़ने तो शिवराज ने जमीन में गाड़ देने की दी चेतावनी

604

नई दिल्ली। कोई भी राज्य ऐसा नहीं रही हैं, जहां अपराध न हो रहा है। अपराध और अपराधी दोनों एक दूसरे के पूरक हैं। अपराध की भी श्रेणि है, केवल किसी की हत्या करने वाला ही अपराधी नहीं होता। दूसरों का हक मारने वाला भी अपराधी है। इस नजरिए से अगर देखा जाए तो शायद ही कोई शख्स होगा जो अपराधी न हो। फिलहाल उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने सत्ता संभालते ही गुंडों-माफियाओं को सुधर जाने वर्ना प्रदेश छोड़ देने की चेतावनी दे डाली थी। हुआ क्या, क्या प्रदेश में अपराध थम गया? वहीं अब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने माफिया तत्वों को प्रदेश छोड़कर चले जाने की धमकी देते हुए कहा कि अगर अपराधी नहीं सुधरते हैं तो उन्हें 10 फुट जमीन के नीचे गाड़ दिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: शिवसेना ने राहुल की क्षमता पर उठाए सवाल, कहा- शरद पवार संभालें UPA की कमान

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों काफी आक्रामक मूड में नजर आ रहे हैं। एक जन सभा के दौरान उन्होंने फिल्मी अंदाज में कहा कि गड़बड़ करने वालों को छोड़ेंगे, फोड़ेंगे नहीं। उन्होंने अपराधियों को चेतावनी देते हुए कहा, सुन लो रे, मध्य प्रदेश को छोड़ कर चले जाओ, वर्ना 10 फीट जमीन के नीचे गाड़ दूंगा और ठिकाने के बारे में किसी को पता भी नहीं चलेगा। सुशासन का मतलब जनता को दिक्कत न हो। गुंडे, बदमाश, फन्ने खां अब मध्य प्रदेश में ऐसा कुछ नहीं चलने वाला है।

बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों मध्य प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है। सुशासन दिवस के मौके पर सीएम चौहान ने होशंगाबाद जिले के बाबई विकासखंड में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपेयी की जयंती है। भाजपा इसे सुशासन दिवस के रूप में मनाती है। उन्होंने कहा, हमारे लिए सुशासन का मतलब जनता को बिना किसी सुविधा शुल्क के सरकारी योजनाओं का लाभ मिले।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपेयी की जयंती पर सीएम शिवराज ने भोपाल के शौर्य स्मारक चौराहे के पास उनकी एक विशाल प्रतिमा का अनावरण भी किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भारत रत्न अटल विहारी वाजपेयी अद्भुत प्रतिभा के धनी राजनेता थे। वह करोड़ों जनता के ह्दय में बसते थे। वे व्यक्ति नहीं व्यक्तित्व थे। इसी के साथ ही उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री के व्यक्तित्व पर विस्तार से प्रकाश डाला। फिलहाल उन्होंने सुशासन दिवस के बहाने अपराधियों-माफियाओं पर तीखा हमला किया। हालांकि उनकी इस चेतावनी का कितना असर होगा वह देखना दिलचस्प रहेगा। क्योंकि सीएम योगी की तरह वह पहली बार सत्ता नहीं संभाले हैं।

इसे भी पढ़ें: नीतीश कुमार को लगा बड़ा झटका, JDU छोड़ 6 विधायक BJP में हुए शामिल