कोरोना नियमों का उल्लंघन पड़ा भारी, वर-वधू पक्ष, मैरिज हॉल संचालक पर लगा 9.5 लाख का जुर्माना

0
59

नई दिल्ली। कोरोना महामारी की दूसरी लहर अभी खत्म भी नहीं हुई है कि लोगों ने लापरवाही करना शुरू कर दिया है। छत्तीसगढ़ के अम्बिकापुर (Ambikapur) में एक शादी समारोह में एक हजार से ज्यादा मेहमान शामिल हुए। इस बारे में जैसे ही जिले के कलेक्टर संजीव कुमार झा को जानकारी मिली उन्होंने कोरोना नियमों का उल्लघंन करने पर कार्रवाई की। जिला प्रशासन की ओर से मैरिज हॉल को सील तो किया ही गया। साथ ही वर-वधू पक्ष और मैरिज हॉल के संचालक पर 9 लाख 50 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है।

इसे भी पढ़ें: हाई कोर्ट ने ममता को दिया बड़ा झटका, लगाया 5 लाख का जुर्माना, जानें पूरा मामला

अनुविभागीय दण्डाधिकारी एवं इंसीडेंट कमाण्डर प्रदीप साहू के अनुसार मामले के जांच के आदेश कलेक्टर संजीव कुमार ने दिए हैं। डीएम के निर्देशानुसार 2 जुलाई को रिंग रोड ट्रांसपोर्ट नगर में स्थित चौरसिया मैरिज गार्डन में शादी समारोह की जांच हुई। इसमें पता चला कि लगभग एक हजार लोग कार्य्रकम में आए थे। जो कि कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन है। गाइडलाइन के अनुसार वैवाहिक कार्यक्रम में अधिकतम संख्या 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं।

कोरोना गाइडलाइन के उल्लघंन के मामले में जिला प्रशासन ने चौरसिया मैरिज गार्डन के संचालक वीरेंद्र चौरसिया पर 4.75 लाख का जुर्माना लगाया है। इसके साथ ही वर पक्ष के पिता सरोज साहू पर 2 लाख 37 हजार रुपए और वधू के पिता प्रकाश साहू पर 2 लाख 37 हजार रुपए का जुर्माना जिला प्रशासन ने लगाया है। तीनों पक्षों से कहा गया है कि जुर्माने की राशि का भुगतान नगर निगम कार्यालय में करें।

कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिला प्रशासन ने कई बड़े और सख्त कदम उठाए हैं। इस क्रम ही कोरोना नियमों को ताक पर रखना मैरिज हॉल संचालक सहित वर-वधू पक्ष को काफी भारी पड़ गया है। वहीं कोरोना संक्रमण दूसरी लहर के मामलों में गिरावट जारी है लेकिन देखने को मिल रहा है कि कोरोना गाइडलाइन का पालन लोग अब नहीं कर रहे हैं। मास्क और फिजिकल डिस्टेंस जैसे नियम लोग भूल ही चुके हैं। ऐसी कई तस्वीरें सामने आई हैं, जिन्हे देखकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से भी आगाह किया गया है।

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री पर गिरी गाज, कोरोना काल बना इस्तीफे का कारण!